Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
17 Mar 2024 · 1 min read

*बाल गीत (मेरा प्यारा मीत )*

बाल गीत (मेरा प्यारा मीत )

मेरा प्यार कहाँ खो जाता।
चुप चुप रहता फिर सो जाता।।
बहुत याद उसकी आती है।
नींद हमारी भग जाती है।।

मेरे प्यारे मीत इधर आ।
साथ रहो तुम कहीं नहीं जा।।
तेरा मीत बुलाता तुझको।
झटका देना कभी न इसको।।

मन नीरस है अगर नहीं हो।
लगता मन जब पास तुम्हीं हो।।
रहना मेरे साथ सदा तुम।
मेरे प्यारे हो सच में तुम।।

तुझको मैंने मीत बनाया।
केवल तुझको ही अपनाया।।
साथ छोड़ कर कहीं न जाना।
बात करो प्रभु के गुण गाना।।

साहित्यकार ऋतुराज वर्मा

24 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"वो दिन दूर नहीं"
Dr. Kishan tandon kranti
जितना बर्बाद करने पे आया है तू
जितना बर्बाद करने पे आया है तू
कवि दीपक बवेजा
प्रत्यक्षतः दैनिक जीवन मे  मित्रता क दीवार केँ ढाहल जा सकैत
प्रत्यक्षतः दैनिक जीवन मे मित्रता क दीवार केँ ढाहल जा सकैत
DrLakshman Jha Parimal
Childhood is rich and adulthood is poor.
Childhood is rich and adulthood is poor.
सिद्धार्थ गोरखपुरी
लग जाए गले से गले
लग जाए गले से गले
Ankita Patel
सच्चे प्रेम का कोई विकल्प नहीं होता.
सच्चे प्रेम का कोई विकल्प नहीं होता.
शेखर सिंह
*सुबह हुई तो सबसे पहले, पढ़ते हम अखबार हैं (हिंदी गजल)*
*सुबह हुई तो सबसे पहले, पढ़ते हम अखबार हैं (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
Hard work is most important in your dream way
Hard work is most important in your dream way
Neeleshkumar Gupt
वक़्त वो सबसे ही जुदा होगा
वक़्त वो सबसे ही जुदा होगा
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
लोग जाने किधर गये
लोग जाने किधर गये
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
पथ सहज नहीं रणधीर
पथ सहज नहीं रणधीर
Shravan singh
Mental health
Mental health
Bidyadhar Mantry
" दम घुटते तरुवर "
Dr Meenu Poonia
2626.पूर्णिका
2626.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
माँ दहलीज के पार🙏
माँ दहलीज के पार🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
जीवन - अस्तित्व
जीवन - अस्तित्व
Shyam Sundar Subramanian
भारत के राम
भारत के राम
करन ''केसरा''
सम्मान में किसी के झुकना अपमान नही होता
सम्मान में किसी के झुकना अपमान नही होता
Kumar lalit
लोग अब हमसे ख़फा रहते हैं
लोग अब हमसे ख़फा रहते हैं
Shweta Soni
-आजकल मोहब्बत में गिरावट क्यों है ?-
-आजकल मोहब्बत में गिरावट क्यों है ?-
bharat gehlot
वक्त
वक्त
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
एक गुलाब हो
एक गुलाब हो
हिमांशु Kulshrestha
VISHAL
VISHAL
Vishal Prajapati
ईश्वर से बात
ईश्वर से बात
Rakesh Bahanwal
रमेशराज के 7 मुक्तक
रमेशराज के 7 मुक्तक
कवि रमेशराज
" जुदाई "
Aarti sirsat
■ आज की बात....!
■ आज की बात....!
*Author प्रणय प्रभात*
आबाद सर ज़मीं ये, आबाद ही रहेगी ।
आबाद सर ज़मीं ये, आबाद ही रहेगी ।
Neelam Sharma
🇮🇳 मेरी माटी मेरा देश 🇮🇳
🇮🇳 मेरी माटी मेरा देश 🇮🇳
Dr Manju Saini
वेलेंटाइन डे रिप्रोडक्शन की एक प्रेक्टिकल क्लास है।
वेलेंटाइन डे रिप्रोडक्शन की एक प्रेक्टिकल क्लास है।
Rj Anand Prajapati
Loading...