Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Aug 2016 · 1 min read

*बचपन*

खुशियों का खजाना बचपन
हर ग़म से अंजाना बचपन
कोशिश कोई लाख करे पर
लौट कभी न आना बचपन
धर्मेन्द्र अरोड़ा

Language: Hindi
1 Comment · 466 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from धर्मेन्द्र अरोड़ा "मुसाफ़िर पानीपती"
View all
You may also like:
अक्षय चलती लेखनी, लिखती मन की बात।
अक्षय चलती लेखनी, लिखती मन की बात।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
दवा दे गया
दवा दे गया
सुशील कुमार सिंह "प्रभात"
फूक मार कर आग जलाते है,
फूक मार कर आग जलाते है,
Buddha Prakash
या अल्लाह या मेरे परवरदिगार
या अल्लाह या मेरे परवरदिगार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
पत्नीजी मायके गयी,
पत्नीजी मायके गयी,
Satish Srijan
उम्मीद और हौंसला, हमेशा बनाये रखना
उम्मीद और हौंसला, हमेशा बनाये रखना
gurudeenverma198
,,
,,
Sonit Parjapati
बेचैनी तब होती है जब ध्यान लक्ष्य से हट जाता है।
बेचैनी तब होती है जब ध्यान लक्ष्य से हट जाता है।
Rj Anand Prajapati
अतिथि देवोभवः
अतिथि देवोभवः
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
एक अकेला
एक अकेला
Punam Pande
■ आज का शेर-
■ आज का शेर-
*Author प्रणय प्रभात*
-- दिखावटी लोग --
-- दिखावटी लोग --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
गंणपति
गंणपति
Anil chobisa
गांधी का अवतरण नहीं होता 
गांधी का अवतरण नहीं होता 
Dr. Pradeep Kumar Sharma
‘बेटी की विदाई’
‘बेटी की विदाई’
पंकज कुमार कर्ण
ओम के दोहे
ओम के दोहे
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
"यदि"
Dr. Kishan tandon kranti
गज़ल सी रचना
गज़ल सी रचना
Kanchan Khanna
कीमतों ने छुआ आसमान
कीमतों ने छुआ आसमान
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
अतीत का गौरव गान
अतीत का गौरव गान
Shekhar Chandra Mitra
राजनीतिक यात्रा फैशन में है, इमेज बिल्डिंग और फाइव स्टार सुव
राजनीतिक यात्रा फैशन में है, इमेज बिल्डिंग और फाइव स्टार सुव
Sanjay ' शून्य'
आप क्या
आप क्या
Dr fauzia Naseem shad
कर्मयोगी
कर्मयोगी
Aman Kumar Holy
सबसे बढ़कर जगत में मानवता है धर्म।
सबसे बढ़कर जगत में मानवता है धर्म।
महेश चन्द्र त्रिपाठी
किसी की हिफाजत में,
किसी की हिफाजत में,
Dr. Man Mohan Krishna
💐प्रेम कौतुक-251💐
💐प्रेम कौतुक-251💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
23/115.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/115.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मातृ दिवस पर कुछ पंक्तियां
मातृ दिवस पर कुछ पंक्तियां
Ram Krishan Rastogi
बादल
बादल
Shankar suman
जागृति
जागृति
Shyam Sundar Subramanian
Loading...