Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Feb 2024 · 1 min read

प्याली से चाय हो की ,

प्याली से हो चाय की ,
जाड़े का सत्कार ।
फिर चुस्की से नेह का,
बढ़े प्रणय संसार ।

सुशील सरना /

52 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"जीवनसाथी राज"
Dr Meenu Poonia
आजादी की शाम ना होने देंगे
आजादी की शाम ना होने देंगे
Ram Krishan Rastogi
नग मंजुल मन मन भावे🌺🪵☘️🍁🪴
नग मंजुल मन मन भावे🌺🪵☘️🍁🪴
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
Sometimes words are not as desperate as feelings.
Sometimes words are not as desperate as feelings.
Sakshi Tripathi
चल सजना प्रेम की नगरी
चल सजना प्रेम की नगरी
Sunita jauhari
आँख अब भरना नहीं है
आँख अब भरना नहीं है
Vinit kumar
सुनबऽ त हँसबऽ तू बहुते इयार
सुनबऽ त हँसबऽ तू बहुते इयार
आकाश महेशपुरी
2651.पूर्णिका
2651.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
मन के भाव हमारे यदि ये...
मन के भाव हमारे यदि ये...
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
कर्म से विश्वाश जन्म लेता है,
कर्म से विश्वाश जन्म लेता है,
Sanjay ' शून्य'
मानवता का
मानवता का
Dr fauzia Naseem shad
"जीवन की अंतिम यात्रा"
Pushpraj Anant
अगर कभी अपनी गरीबी का एहसास हो,अपनी डिग्रियाँ देख लेना।
अगर कभी अपनी गरीबी का एहसास हो,अपनी डिग्रियाँ देख लेना।
Shweta Soni
बड़ी बात है ....!!
बड़ी बात है ....!!
हरवंश हृदय
धोखा था ये आंख का
धोखा था ये आंख का
RAMESH SHARMA
जब होती हैं स्वार्थ की,
जब होती हैं स्वार्थ की,
sushil sarna
अलविदा नहीं
अलविदा नहीं
Pratibha Pandey
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
पहाड़ का अस्तित्व - पहाड़ की नारी
पहाड़ का अस्तित्व - पहाड़ की नारी
श्याम सिंह बिष्ट
जीवन समर्पित करदो.!
जीवन समर्पित करदो.!
Prabhudayal Raniwal
प्रीति
प्रीति
Mahesh Tiwari 'Ayan'
इश्क का इंसाफ़।
इश्क का इंसाफ़।
Taj Mohammad
अजर अमर सतनाम
अजर अमर सतनाम
Dr. Kishan tandon kranti
ऐसा इजहार करू
ऐसा इजहार करू
Basant Bhagawan Roy
कागज़ ए जिंदगी
कागज़ ए जिंदगी
Neeraj Agarwal
दिल तो ठहरा बावरा, क्या जाने परिणाम।
दिल तो ठहरा बावरा, क्या जाने परिणाम।
Suryakant Dwivedi
चलो एक बार फिर से ख़ुशी के गीत गायें
चलो एक बार फिर से ख़ुशी के गीत गायें
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
बरसाने की हर कलियों के खुशबू में राधा नाम है।
बरसाने की हर कलियों के खुशबू में राधा नाम है।
Rj Anand Prajapati
* संसार में *
* संसार में *
surenderpal vaidya
रामचरितमानस दर्शन : एक पठनीय समीक्षात्मक पुस्तक
रामचरितमानस दर्शन : एक पठनीय समीक्षात्मक पुस्तक
Ravi Prakash
Loading...