Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Feb 2024 · 1 min read

ना धर्म पर ना जात पर,

ना धर्म पर ना जात पर,
और ना नेताओं की बात पर,
प्रतिनिधि चुनो उसी को,
जो बात करे हर बात पर

Gouri tiwari

1 Like · 100 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
परिवार
परिवार
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
हमे अब कहा फिक्र जमाने की है
हमे अब कहा फिक्र जमाने की है
पूर्वार्थ
"साहिल"
Dr. Kishan tandon kranti
दास्तान-ए- वेलेंटाइन
दास्तान-ए- वेलेंटाइन
Dr. Mahesh Kumawat
दर्द  जख्म कराह सब कुछ तो हैं मुझ में
दर्द जख्म कराह सब कुछ तो हैं मुझ में
Ashwini sharma
पावस
पावस
लक्ष्मी सिंह
सनम
सनम
Sanjay ' शून्य'
बरसों की ज़िंदगी पर
बरसों की ज़िंदगी पर
Dr fauzia Naseem shad
शाश्वत और सनातन
शाश्वत और सनातन
Mahender Singh
*सॉंप और सीढ़ी का देखो, कैसा अद्भुत खेल (हिंदी गजल)*
*सॉंप और सीढ़ी का देखो, कैसा अद्भुत खेल (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
चली ⛈️सावन की डोर➰
चली ⛈️सावन की डोर➰
डॉ० रोहित कौशिक
*मैं, तुम और हम*
*मैं, तुम और हम*
sudhir kumar
हर राह मौहब्बत की आसान नहीं होती ।
हर राह मौहब्बत की आसान नहीं होती ।
Phool gufran
भुलाना ग़लतियाँ सबकी सबक पर याद रख लेना
भुलाना ग़लतियाँ सबकी सबक पर याद रख लेना
आर.एस. 'प्रीतम'
जिन्दगी के रोजमर्रे की रफ़्तार में हम इतने खो गए हैं की कभी
जिन्दगी के रोजमर्रे की रफ़्तार में हम इतने खो गए हैं की कभी
Sukoon
उम्मीद ....
उम्मीद ....
sushil sarna
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
रामेश्वरम लिंग स्थापना।
रामेश्वरम लिंग स्थापना।
Acharya Rama Nand Mandal
3434⚘ *पूर्णिका* ⚘
3434⚘ *पूर्णिका* ⚘
Dr.Khedu Bharti
आओ गुफ्तगू करे
आओ गुफ्तगू करे
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
मनुष्य की महत्ता
मनुष्य की महत्ता
ओंकार मिश्र
हंस
हंस
Dr. Seema Varma
बेटा
बेटा
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
ध्यान
ध्यान
Monika Verma
बुंदेली दोहा-पखा (दाढ़ी के लंबे बाल)
बुंदेली दोहा-पखा (दाढ़ी के लंबे बाल)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
स्वार्थी नेता
स्वार्थी नेता
पंकज कुमार कर्ण
रण प्रतापी
रण प्रतापी
Lokesh Singh
हाँ, नहीं आऊंगा अब कभी
हाँ, नहीं आऊंगा अब कभी
gurudeenverma198
आसा.....नहीं जीना गमों के साथ अकेले में
आसा.....नहीं जीना गमों के साथ अकेले में
Deepak Baweja
बड़े होते बच्चे
बड़े होते बच्चे
Manu Vashistha
Loading...