Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jan 2023 · 1 min read

तेरे बिन

तेरे बिन, तेरे बिन, तेरे बिन…
है नहीं, है नहीं, कुछ नहीं…
तेरे संग, तेरे संग, तेरे संग..
आफ़रीं, आफ़रीं, ज़िंदगी…
जिया जाए न तेरे बिना…×३

तू ही अब, तू ही अब बन गई…
जीने की, जीने की, हर वज़ह…
बस गई, बस गई, बस गई…
रूह में, रूह में, हर जगह…
जिया जाए न तेरे बिना…×३

मैंने तो, मैंने तो, अपना दिल…
जोड़ा है, जोड़ा है, तेरे दिल से…
कहना है, कहना है, कहना है…
सामने, सामने, हर महफ़िल के…
जिया जाए न तेरे बिना…×३

तेरा ही, तेरा ही, तेरा ही…
जिक्र है, जिक्र है, हर दफ़ा…
चाँद से, चाँद से, सीखी है…
क्या तूने प्यार की हर वफ़ा…
जिया जाए न तेरे बिना…×३

~कमल दीपेंद्र सिंह, अमरोहा, उ०प्र०
अनवरत विद्यार्थी

2 Likes · 239 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
#आज_का_संदेश
#आज_का_संदेश
*प्रणय प्रभात*
कोई किसी का कहां हुआ है
कोई किसी का कहां हुआ है
Dr fauzia Naseem shad
ख़्बाब आंखों में बंद कर लेते - संदीप ठाकुर
ख़्बाब आंखों में बंद कर लेते - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
आकाश दीप - (6 of 25 )
आकाश दीप - (6 of 25 )
Kshma Urmila
कहते हैं संसार में ,
कहते हैं संसार में ,
sushil sarna
धुनी रमाई है तेरे नाम की
धुनी रमाई है तेरे नाम की
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
2311.
2311.
Dr.Khedu Bharti
तू रुकना नहीं,तू थकना नहीं,तू हारना नहीं,तू मारना नहीं
तू रुकना नहीं,तू थकना नहीं,तू हारना नहीं,तू मारना नहीं
पूर्वार्थ
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
धरती ने जलवाष्पों को आसमान तक संदेश भिजवाया
ruby kumari
खल साहित्यिकों का छलवृत्तांत / MUSAFIR BAITHA
खल साहित्यिकों का छलवृत्तांत / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
प्रेम में कुछ भी असम्भव नहीं। बल्कि सबसे असम्भव तरीक़े से जि
प्रेम में कुछ भी असम्भव नहीं। बल्कि सबसे असम्भव तरीक़े से जि
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
मुझे मुझसे हीं अब मांगती है, गुजरे लम्हों की रुसवाईयाँ।
मुझे मुझसे हीं अब मांगती है, गुजरे लम्हों की रुसवाईयाँ।
Manisha Manjari
नारी की शक्ति
नारी की शक्ति
Anamika Tiwari 'annpurna '
मत पूछो मेरा कारोबार क्या है,
मत पूछो मेरा कारोबार क्या है,
Vishal babu (vishu)
धर्म के रचैया श्याम,नाग के नथैया श्याम
धर्म के रचैया श्याम,नाग के नथैया श्याम
कृष्णकांत गुर्जर
"लकीरों के रंग"
Dr. Kishan tandon kranti
हर हालात में अपने जुबाँ पर, रहता वन्देमातरम् .... !
हर हालात में अपने जुबाँ पर, रहता वन्देमातरम् .... !
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
*रेल हादसा*
*रेल हादसा*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
एक पंथ दो काज
एक पंथ दो काज
Dr. Pradeep Kumar Sharma
हिंदू कट्टरवादिता भारतीय सभ्यता पर इस्लाम का प्रभाव है
हिंदू कट्टरवादिता भारतीय सभ्यता पर इस्लाम का प्रभाव है
Utkarsh Dubey “Kokil”
दिल हमारा तुम्हारा धड़कने लगा।
दिल हमारा तुम्हारा धड़कने लगा।
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
*जिंदगी के अनुभवों से एक बात सीख ली है कि ईश्वर से उम्मीद लग
*जिंदगी के अनुभवों से एक बात सीख ली है कि ईश्वर से उम्मीद लग
Shashi kala vyas
ना तो हमारी तरह तुम्हें कोई प्रेमी मिलेगा,
ना तो हमारी तरह तुम्हें कोई प्रेमी मिलेगा,
Dr. Man Mohan Krishna
रेत सी जिंदगी लगती है मुझे
रेत सी जिंदगी लगती है मुझे
Harminder Kaur
मैं तो महज प्रेमिका हूँ
मैं तो महज प्रेमिका हूँ
VINOD CHAUHAN
हिन्दी की गाथा क्यों गाते हो
हिन्दी की गाथा क्यों गाते हो
Anil chobisa
उनको ही लाजवाब लिक्खा है
उनको ही लाजवाब लिक्खा है
अरशद रसूल बदायूंनी
मोहमाया के जंजाल में फंसकर रह गया है इंसान
मोहमाया के जंजाल में फंसकर रह गया है इंसान
Rekha khichi
लंका दहन
लंका दहन
Paras Nath Jha
सीख लिया मैनै
सीख लिया मैनै
Seema gupta,Alwar
Loading...