Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Jun 2016 · 1 min read

दोहे

जीवन मे माँ से बडा

और नही वरदान

माँ चरणों की धूल ले

खुश होंगे भगवान।

2

भारत की गरिमा बचा

कर के सोच विचार

भगत सिंह,आज़ाद का

सपना कर साकार

3

वेद पुराण भुला दिये

भूले सच्चे ग्रंथ

भाँति भाँति के संत हैं

भाँति भाँति के पंथ

4

मीरा बोली साँवरे

कर जोगन से प्रीत

इन चरणों मे शरण दे

निभा प्रेम की रीत

5

गुस्सा अपना पी लिया

शिकवा था बेकार

बढ ना जाये फिर कहीं

आपस मे तकरार

Language: Hindi
Tag: दोहा
3 Comments · 400 Views
You may also like:
किताब का जादू
Shekhar Chandra Mitra
"शुभ श्रीकृष्ण जन्माष्टमी" प्यारे कन्हैया बंशी बजइया
Mahesh Tiwari 'Ayen'
जीवन का इक आइना, होते अपने कर्म
Dr Archana Gupta
आजकल इश्क नही 21को शादी है
Anurag pandey
बाढ़ और इंसान।
Buddha Prakash
अमृत महोत्सव मनायेंगे
नूरफातिमा खातून नूरी
घरवाली की मार
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
आज आदमी क्या क्या भूल गया है
Ram Krishan Rastogi
ग़ज़ल & दिल की किताब में -राना लिधौरी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
अस्मतों के बाज़ार लग गए हैं।
Taj Mohammad
"शिवाजी और उनके द्वारा किए समाज सुधार के कार्य"
Pravesh Shinde
कभी वक़्त ने गुमराह किया,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
शंकर छंद और विधाएँ
Subhash Singhai
आसान नहीं होता है पिता बन पाना
Poetry By Satendra
खुद से प्यार
लक्ष्मी सिंह
अभी बचपन है इनका
gurudeenverma198
आ.अ.शि.संघ ( शिक्षक की पीड़ा)
Dhananjay Verma
सोने की दस अँगूठियाँ….
Piyush Goel
मैं किसान हूँ
Dr.S.P. Gautam
बाबू जी
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मृत्यु या साजिश...?
मनोज कर्ण
मेरी छवि
Anamika Singh
जब भी
Dr fauzia Naseem shad
शहीदों का यशगान
शेख़ जाफ़र खान
Rain (wo baarish ki yaadein)
Nupur Pathak
आदर्श पिता
विजय कुमार अग्रवाल
'प्रेम' ( देव घनाक्षरी)
Godambari Negi
*शोध प्रसंग : क्या महाराजा अग्रसेन का रामपुर (उत्तर प्रदेश)...
Ravi Prakash
कवित्त
Varun Singh Gautam
ना चीज़ हो गया हूँ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
Loading...