Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#7 Trending Author
Oct 7, 2016 · 1 min read

देख रहा होगा

देख रहा होगा जहाँ के हालात कोई फरिश्ता
जुल्म मिटाने को कभी उतरेगा कोई फरिश्ता
बेशरमाई झूठ मक्कारी की हदों को रोकेगा
जग का कल्याण करेगा फिर कोई फरिश्ता

70 Likes · 224 Views
You may also like:
इंसान जीवन को अब ना जीता है।
Taj Mohammad
माहौल
AMRESH KUMAR VERMA
✍️✍️भोंगे✍️✍️
"अशांत" शेखर
भरमा रहा है मुझको तेरे हुस्न का बादल।
सत्य कुमार प्रेमी
रिश्ते
कुलदीप दहिया "मरजाणा दीप"
इन्तजार किया करतें हैं
शिव प्रताप लोधी
एक शख्स ही ऐसा होता है
Krishan Singh
फ़ालतू बात यही है
gurudeenverma198
मेरा अक्स तो आब है।
Taj Mohammad
चलो जिन्दगी को फिर से।
Taj Mohammad
आज जानें क्यूं?
Taj Mohammad
माँ दुर्गे!
Anamika Singh
धरती से मिलने को बादल जब भी रोने लग गया।
सत्य कुमार प्रेमी
क्या क्या हम भूल चुके है
Ram Krishan Rastogi
* बेकस मौजू *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मेरा गुरूर है पिता
VINOD KUMAR CHAUHAN
लाडली की पुकार!
Dr. Arti 'Lokesh' Goel
रामे क बरखा ह रामे क छाता
Dhirendra Panchal
ज़ालिम दुनियां में।
Taj Mohammad
माँ क्या लिखूँ।
Anamika Singh
यक्ष प्रश्न ( लघुकथा संग्रह)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
मौन में गूंजते शब्द
Manisha Manjari
दीपावली,प्यार का अमृत, प्यार से दिल में, प्यार के अंदर...
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
पत्नियों की फरमाइशें (हास्य व्यंग)
Ram Krishan Rastogi
** भावप्रतिभाव **
Dr. Alpa H. Amin
मेरे पापा
ओनिका सेतिया 'अनु '
कोमल एहसास प्यार का....
Dr. Alpa H. Amin
इश्क में तन्हाईयां बहुत है।
Taj Mohammad
मातृभाषा हिंदी
AMRESH KUMAR VERMA
मोतियों की सुनहरी माला
DESH RAJ
Loading...