Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Oct 2022 · 1 min read

दिखाकर ताकत रुपयों की

दिखाकर ताकत रुपयों की, क्यों कुछ ऐसा करते हैं।
ईमान – इंसाफ- इंसान को,खरीदने की बात करते हैं।।
दिखाकर ताकत रुपयों की——————-।।

समझते नहीं किसी का दुःख, हंसते हैं वो मजबूर पर।
समझते हैं सभी को गुलाम, करते हैं जुल्म मजदूर पर।।
होते हैं बहुत ये बेदर्दी, दर्द नहीं किसी का समझते हैं।
दिखाकर रुपयों की ताकत————–।।

करते नहीं इज्जत औरत की, कहते हैं खिलौना नारी को।
लूटते है अस्मत ये औरत की,रखते हैं कैद वो नारी को।।
जो नारी है इनकी माता ,नहीं पूजा उसकी ये करते हैं।
दिखाकर ताकत रुपयों की——————-।।

वफादार किसी से होते नहीं, चाहे इनका परिवार हो।
रखते हैं सम्बंध उन लोगों से, जो देश के गद्दार हो।।
नहीं शर्म इनको बदनामी की,बर्बाद देश को करते हैं।
दिखाकर ताकत रुपयों की——————–।।

शिक्षक एवं साहित्यकार-
गुरुदीन वर्मा उर्फ जी.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां(राजस्थान)
मोबाईल नम्बर- 9571070847

Language: Hindi
Tag: गीत
117 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
होली की आयी बहार।
होली की आयी बहार।
Anil Mishra Prahari
In the end
In the end
Vandana maurya
ফুলডুংরি পাহাড় ভ্রমণ
ফুলডুংরি পাহাড় ভ্রমণ
Arghyadeep Chakraborty
“गुरुर मत करो”
“गुरुर मत करो”
Virendra kumar
वो तो शहर से आए थे
वो तो शहर से आए थे
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
23/116.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/116.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मुक्तक
मुक्तक
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
देकर घाव मरहम लगाना जरूरी है क्या
देकर घाव मरहम लगाना जरूरी है क्या
Gouri tiwari
"चापलूसी"
Dr. Kishan tandon kranti
*** चंद्रयान-३ : चांद की सतह पर....! ***
*** चंद्रयान-३ : चांद की सतह पर....! ***
VEDANTA PATEL
जिंदगी की कहानी लिखने में
जिंदगी की कहानी लिखने में
Shweta Soni
उलझनें तेरे मैरे रिस्ते की हैं,
उलझनें तेरे मैरे रिस्ते की हैं,
Jayvind Singh Ngariya Ji Datia MP 475661
#दिनांक:-19/4/2024
#दिनांक:-19/4/2024
Pratibha Pandey
किस्मत
किस्मत
Vandna thakur
तेरी फ़ितरत, तेरी कुदरत
तेरी फ़ितरत, तेरी कुदरत
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मुस्तक़िल बेमिसाल हुआ करती हैं।
मुस्तक़िल बेमिसाल हुआ करती हैं।
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
प्यार और विश्वास
प्यार और विश्वास
Harminder Kaur
मैं तो महज क़ायनात हूँ
मैं तो महज क़ायनात हूँ
VINOD CHAUHAN
** मन मिलन **
** मन मिलन **
surenderpal vaidya
#दोहा
#दोहा
*Author प्रणय प्रभात*
इसका क्या सबूत है, तू साथ सदा मेरा देगी
इसका क्या सबूत है, तू साथ सदा मेरा देगी
gurudeenverma198
हमनें ख़ामोश
हमनें ख़ामोश
Dr fauzia Naseem shad
कलम बेच दूं , स्याही बेच दूं ,बेच दूं क्या ईमान
कलम बेच दूं , स्याही बेच दूं ,बेच दूं क्या ईमान
कवि दीपक बवेजा
अपनेपन का मुखौटा
अपनेपन का मुखौटा
Manisha Manjari
ईश्वर नाम रख लेने से, तुम ईश्वर ना हो जाओगे,
ईश्वर नाम रख लेने से, तुम ईश्वर ना हो जाओगे,
Anand Kumar
एक अलग ही दुनिया
एक अलग ही दुनिया
Sangeeta Beniwal
जवाब दो हम सवाल देंगे।
जवाब दो हम सवाल देंगे।
सत्य कुमार प्रेमी
*यदि हम खास होते तो तेरे पास होते*
*यदि हम खास होते तो तेरे पास होते*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
Kohre ki bunde chhat chuki hai,
Kohre ki bunde chhat chuki hai,
Sakshi Tripathi
*भादो श्री कृष्णाष्टमी ,उदय कृष्ण अवतार (कुंडलिया)*
*भादो श्री कृष्णाष्टमी ,उदय कृष्ण अवतार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
Loading...