Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Mar 2024 · 1 min read

तुम्हें भूल नहीं सकता कभी

तुम्हें भूल नहीं सकता कभी।
तुम्हें दूर नहीं कर सकता कभी।।
दिल में हमेशा रहती है तू।
तुम्हें छोड़ नहीं सकता कभी।।
तुम्हें भूल नहीं—————-।।

मुझे याद मिलन वह अब तक है।
जब प्यार की बात शुरु हुई।।
कई बार मिले अकेले फिर।
मोहब्बत यह परवान हुई।।
मुझसे लिपटकर हँसती थी तू ।
वह याद मिटा नहीं सकता कभी।।
तुम्हें भूल नहीं——————–।।

चलती थी अदा से इठलाकर।
जब राह में हम तुम मिलते थे।।
करती थी इशारे शरमाकर।
जब होकर जुदा हम चलते थे।।
मेरे सुर में सुर मिलाकर तेरा।
वो गाना नहीं भूल सकता कभी।।
तुम्हें भूल नहीं——————-।।

कभी रुठकै हमसे तेरा लड़ना।
तुमको मनाना रोने पर।।
चाहे तेरा यह नाटक था।
हम टूट गए यह होने पर।।
मगर मेरा प्यार सच्चा है।
नाचीज नहीं हो सकता कभी।।
तुम्हें भूल नहीं—————–।।

शिक्षक एवं साहित्यकार
गुरुदीन वर्मा उर्फ़ जी.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां(राजस्थान)

Language: Hindi
Tag: गीत
219 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
खालीपन
खालीपन
MEENU
सुर्ख बिंदी
सुर्ख बिंदी
Awadhesh Singh
'सफलता' वह मुकाम है, जहाँ अपने गुनाहगारों को भी गले लगाने से
'सफलता' वह मुकाम है, जहाँ अपने गुनाहगारों को भी गले लगाने से
satish rathore
2833. *पूर्णिका*
2833. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
फूल,पत्ते, तृण, ताल, सबकुछ निखरा है
फूल,पत्ते, तृण, ताल, सबकुछ निखरा है
Anil Mishra Prahari
श्री श्याम भजन
श्री श्याम भजन
Khaimsingh Saini
मुझको कुर्सी तक पहुंचा दे
मुझको कुर्सी तक पहुंचा दे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
जरासन्ध के पुत्रों ने
जरासन्ध के पुत्रों ने
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
How do you want to be loved?
How do you want to be loved?
पूर्वार्थ
भाड़ में जाओ
भाड़ में जाओ
ruby kumari
दुख
दुख
Rekha Drolia
मै श्मशान घाट की अग्नि हूँ ,
मै श्मशान घाट की अग्नि हूँ ,
Pooja Singh
पुस्तक
पुस्तक
Vedha Singh
"श्रमिकों को निज दिवस पर, ख़ूब मिला उपहार।
*Author प्रणय प्रभात*
// अगर //
// अगर //
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
👰🏾‍♀कजरेली👰🏾‍♀
👰🏾‍♀कजरेली👰🏾‍♀
सुरेश अजगल्ले 'इन्द्र '
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
आखिर कुछ तो सबूत दो क्यों तुम जिंदा हो
आखिर कुछ तो सबूत दो क्यों तुम जिंदा हो
कवि दीपक बवेजा
प्रेम का पुजारी हूं, प्रेम गीत ही गाता हूं
प्रेम का पुजारी हूं, प्रेम गीत ही गाता हूं
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
ग़ज़ल की नक़ल नहीं है तेवरी + रमेशराज
ग़ज़ल की नक़ल नहीं है तेवरी + रमेशराज
कवि रमेशराज
की तरह
की तरह
Neelam Sharma
थूंक पॉलिस
थूंक पॉलिस
Dr. Pradeep Kumar Sharma
साथ अगर उनका होता
साथ अगर उनका होता
gurudeenverma198
मदर्स डे
मदर्स डे
Satish Srijan
ये बेटा तेरा मर जाएगा
ये बेटा तेरा मर जाएगा
Basant Bhagawan Roy
हौसला देने वाले अशआर
हौसला देने वाले अशआर
Dr fauzia Naseem shad
तितलियां
तितलियां
Adha Deshwal
व्यथित ह्रदय
व्यथित ह्रदय
कवि अनिल कुमार पँचोली
"आदि नाम"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...