Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 12, 2022 · 1 min read

तुम्हारी जुदाई ने।

तुम्हारी जुदाई ने हर खुशी छीन ली है।
अब तो चांदनी रातें भी गमगीन सी है।।

✍️✍️ ताज मोहम्मद ✍️✍️

1 Like · 2 Comments · 44 Views
You may also like:
यक्ष प्रश्न ( लघुकथा संग्रह)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
मित्रों की दुआओं से...
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
रखना खयाल मेरे भाई हमेशा
gurudeenverma198
दर्द को मायूस करना चाहता हूँ
Sanjay Narayan
बदलती परम्परा
Anamika Singh
अधूरापन
Harshvardhan "आवारा"
✍️चार कदम जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
💐💐ये पदार्थानां दास भवति।ते भगवतः भक्तः न💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तुम बहुत खूबसूरत हो
Anamika Singh
✍️वो पलाश के फूल...!✍️
'अशांत' शेखर
बे-इंतिहा मोहब्बत करते हैं तुमसे
VINOD KUMAR CHAUHAN
प्रतीक्षा करना पड़ता।
Vijaykumar Gundal
साधु न भूखा जाय
श्री रमण 'श्रीपद्'
नीम का छाँव लेकर
सिद्धार्थ गोरखपुरी
पागल हूं जो दिन रात तुझे सोचता हूं।
Harshvardhan "आवारा"
लौटे स्वर्णिम दौर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पाकीज़ा इश्क़
VINOD KUMAR CHAUHAN
*अग्रसेन भागवत के महान गायक आचार्य विष्णु दास शास्त्री :...
Ravi Prakash
✍️तलाश करो तुम✍️
'अशांत' शेखर
राम नाम ही परम सत्य है।
Anamika Singh
बहुमत
मनोज कर्ण
योगी छंद विधान और विधाएँ
Subhash Singhai
जीवन एक कारखाना है /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
आकर मेरे ख्वाबों में, पर वे कहते कुछ नहीं
Ram Krishan Rastogi
कि राज दिल का उसको, कभी बता नहीं सके
gurudeenverma198
सुरज से सीखों
Anamika Singh
दीप तुम प्रज्वलित करते रहो।
Taj Mohammad
'बाबूजी' एक पिता
पंकज कुमार "कर्ण"
तीन किताबें
Buddha Prakash
काश तुम
Dr fauzia Naseem shad
Loading...