Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Jul 2020 · 1 min read

तलाश।

हबीब किसी के बन ना सके तो,
ना रहिए बन कर रक़ीब भी,
कि बेयक़ीं है ये सफ़र-ए-ज़िंदगी,
और है थोड़ा सा अजीब भी,
दूर रहकर भी पास रहें,
और रहें थोड़े करीब भी,

यूं ही ना छोड़िए साथ किसी का,
कि फिर मिला ना सके नसीब भी,
रिश्तों की तलाश में फिरते हैं यहां,
अमीर भी और ग़रीब भी।

-अंबर श्रीवास्तव

Language: Hindi
Tag: शेर
5 Likes · 4 Comments · 325 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वह नही समझ पायेगा कि
वह नही समझ पायेगा कि
Dheerja Sharma
“बप्पा रावल” का इतिहास
“बप्पा रावल” का इतिहास
Ajay Shekhavat
"बीज"
Dr. Kishan tandon kranti
3105.*पूर्णिका*
3105.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आज मानवता मृत्यु पथ पर जा रही है।
आज मानवता मृत्यु पथ पर जा रही है।
पूर्वार्थ
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
मन ,मौसम, मंजर,ये तीनों
मन ,मौसम, मंजर,ये तीनों
Shweta Soni
*तेरे इंतज़ार में*
*तेरे इंतज़ार में*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
गरिमामय प्रतिफल
गरिमामय प्रतिफल
Shyam Sundar Subramanian
Hum tumhari giraft se khud ko azad kaise kar le,
Hum tumhari giraft se khud ko azad kaise kar le,
Sakshi Tripathi
जुदाई - चंद अशआर
जुदाई - चंद अशआर
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
निरीह गौरया
निरीह गौरया
Dr.Pratibha Prakash
🙏*गुरु चरणों की धूल*🙏
🙏*गुरु चरणों की धूल*🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
जीवनी स्थूल है/सूखा फूल है
जीवनी स्थूल है/सूखा फूल है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
क्या चाहती हूं मैं जिंदगी से
क्या चाहती हूं मैं जिंदगी से
Harminder Kaur
*श्री राजेंद्र कुमार शर्मा का निधन : एक युग का अवसान*
*श्री राजेंद्र कुमार शर्मा का निधन : एक युग का अवसान*
Ravi Prakash
लम्हे
लम्हे
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
खुद के प्रति प्रतिबद्धता
खुद के प्रति प्रतिबद्धता
लक्ष्मी सिंह
Misconceptions are both negative and positive. It is just ne
Misconceptions are both negative and positive. It is just ne
सिद्धार्थ गोरखपुरी
ज़रा सा इश्क
ज़रा सा इश्क
हिमांशु Kulshrestha
*
*" कोहरा"*
Shashi kala vyas
"सुप्रभात"
Yogendra Chaturwedi
पहला अहसास
पहला अहसास
Falendra Sahu
భారత దేశ వీరుల్లారా
భారత దేశ వీరుల్లారా
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
ग़ज़ल (चलो आ गयी हूँ मैं तुम को मनाने)
ग़ज़ल (चलो आ गयी हूँ मैं तुम को मनाने)
डॉक्टर रागिनी
,✍️फरेब:आस्तीन के सांप बन गए हो तुम...
,✍️फरेब:आस्तीन के सांप बन गए हो तुम...
पं अंजू पांडेय अश्रु
ਸ਼ਿਕਵੇ ਉਹ ਵੀ ਕਰਦਾ ਰਿਹਾ
ਸ਼ਿਕਵੇ ਉਹ ਵੀ ਕਰਦਾ ਰਿਹਾ
Surinder blackpen
दोहे
दोहे
अशोक कुमार ढोरिया
किससे कहे दिल की बात को हम
किससे कहे दिल की बात को हम
gurudeenverma198
**माटी जन्मभूमि की**
**माटी जन्मभूमि की**
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
Loading...