Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Feb 2023 · 1 min read

तनख्वाह मिले जितनी,

तनख्वाह मिले जितनी,
उतने में खुब तसल्ली।
ज्यादा नहीं कमाता
हैं ख्वाहिशें मामूली।

सतीश सृजन

382 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Satish Srijan
View all
You may also like:
मां सीता की अग्नि परीक्षा ( महिला दिवस)
मां सीता की अग्नि परीक्षा ( महिला दिवस)
Rj Anand Prajapati
चुनाव चालीसा
चुनाव चालीसा
विजय कुमार अग्रवाल
दिल कि गली
दिल कि गली
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
शिक्षा का महत्व
शिक्षा का महत्व
Dinesh Kumar Gangwar
*अयोध्या*
*अयोध्या*
Dr. Priya Gupta
खुद को कभी न बदले
खुद को कभी न बदले
Dr fauzia Naseem shad
क्या है मोहब्बत??
क्या है मोहब्बत??
Skanda Joshi
बेटा राजदुलारा होता है?
बेटा राजदुलारा होता है?
Rekha khichi
उसे पता है मुझे तैरना नहीं आता,
उसे पता है मुझे तैरना नहीं आता,
Vishal babu (vishu)
दोनों हाथों से दुआएं दीजिए
दोनों हाथों से दुआएं दीजिए
Harminder Kaur
पर्यावरण संरक्षण
पर्यावरण संरक्षण
Pratibha Pandey
*** आप भी मुस्कुराइए ***
*** आप भी मुस्कुराइए ***
Chunnu Lal Gupta
** मुक्तक **
** मुक्तक **
surenderpal vaidya
प्रेम भरे कभी खत लिखते थे
प्रेम भरे कभी खत लिखते थे
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
ज़िंदगी - एक सवाल
ज़िंदगी - एक सवाल
Shyam Sundar Subramanian
*बल गीत (वादल )*
*बल गीत (वादल )*
Rituraj shivem verma
उफ़ तेरी ये अदायें सितम ढा रही है।
उफ़ तेरी ये अदायें सितम ढा रही है।
Phool gufran
स्वयं की खोज कैसे करें
स्वयं की खोज कैसे करें
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
3469🌷 *पूर्णिका* 🌷
3469🌷 *पूर्णिका* 🌷
Dr.Khedu Bharti
उम्मीद.............एक आशा
उम्मीद.............एक आशा
Neeraj Agarwal
"आत्मदाह"
Dr. Kishan tandon kranti
नाकाम मुहब्बत
नाकाम मुहब्बत
Shekhar Chandra Mitra
Kabhi kitabe pass hoti hai
Kabhi kitabe pass hoti hai
Sakshi Tripathi
ग़ज़ल
ग़ज़ल
abhishek rajak
संवेदना
संवेदना
Ekta chitrangini
कमरा उदास था
कमरा उदास था
Shweta Soni
"तर्के-राबता" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Remembering that winter Night
Remembering that winter Night
Bidyadhar Mantry
आँखें बतलातीं सदा ,मन की सच्ची बात ( कुंडलिया )
आँखें बतलातीं सदा ,मन की सच्ची बात ( कुंडलिया )
Ravi Prakash
Loading...