Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Oct 2022 · 1 min read

जड़त्व

कृपण दान के महत्व को नहीं जानता,
भाग्यवादी कर्म के महत्व को नहीं जानता,
भौतिकवादी आध्यात्म के महत्व को नहीं जानता,
उदासीन सद्भावना के महत्व को नहीं जानता,
बुद्धिहीन व्यावहारिक ज्ञान के महत्व को
नहीं जानता,
निरंकुश सामंजस्य के महत्व को नहीं जानता,
नास्तिक श्रृद्धा एवं भक्ति के महत्व को नहीं जानता,
अवसरवादी मानवता के महत्व को नहीं जानता,
स्वार्थवादी सर्वकल्याण के महत्व को नहीं जानता,
संवेदनहीन प्रेम एवं त्याग के महत्व को नहीं जानता,
लोभी प्रवृत्तिजनक परिणामों को नहीं जानता,
भ्रष्ट आचरण सदाचार के महत्व को नहीं जानता,
मिथ्यावादी सत्य की शक्ति को नहीं जानता,
दंभी आत्मचिंतन के महत्व को नहीं जानता,
क्रोधी क्रोधजनक परिणामों को नहीं जानता,
कामातुर कामवासनाजनक प्रतिफल को नहीं जानता,
ध्यूत व्यसनी धन के महत्व को नही जानता,
लक्ष्यहीन जीवन के महत्व को नहीं जानता,

Language: Hindi
3 Likes · 194 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Shyam Sundar Subramanian
View all
You may also like:
हिम्मत कर लड़,
हिम्मत कर लड़,
पूर्वार्थ
थोड़ा  ठहर   ऐ  ज़िन्दगी
थोड़ा ठहर ऐ ज़िन्दगी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मिलन की वेला
मिलन की वेला
Dr.Pratibha Prakash
मुक्तक
मुक्तक
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
जीवन
जीवन
नन्दलाल सुथार "राही"
बहुमत
बहुमत
मनोज कर्ण
*करते सौदा देश का, सत्ता से बस प्यार (कुंडलिया)*
*करते सौदा देश का, सत्ता से बस प्यार (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
★उसकी यादों का साया★
★उसकी यादों का साया★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
भारत के वीर जवान
भारत के वीर जवान
Mukesh Kumar Sonkar
बमुश्किल से मुश्किल तक पहुँची
बमुश्किल से मुश्किल तक पहुँची
सिद्धार्थ गोरखपुरी
"ऐसा क्यों होता है?"
Dr. Kishan tandon kranti
प्यार करोगे तो तकलीफ मिलेगी
प्यार करोगे तो तकलीफ मिलेगी
Harminder Kaur
मैं तूफान हूँ जिधर से गुजर जाऊँगा
मैं तूफान हूँ जिधर से गुजर जाऊँगा
VINOD CHAUHAN
*बाल गीत (मेरा प्यारा मीत )*
*बाल गीत (मेरा प्यारा मीत )*
Rituraj shivem verma
मिलकर नज़रें निगाह से लूट लेतीं है आँखें
मिलकर नज़रें निगाह से लूट लेतीं है आँखें
Amit Pandey
विचार, संस्कार और रस [ एक ]
विचार, संस्कार और रस [ एक ]
कवि रमेशराज
खामोश आवाज़
खामोश आवाज़
Dr. Seema Varma
लहज़ा गुलाब सा है, बातें क़माल हैं
लहज़ा गुलाब सा है, बातें क़माल हैं
Dr. Rashmi Jha
थक गया दिल
थक गया दिल
Dr fauzia Naseem shad
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
हॉस्पिटल मैनेजमेंट
हॉस्पिटल मैनेजमेंट
Dr. Pradeep Kumar Sharma
दिन भी बहके से हुए रातें आवारा हो गईं।
दिन भी बहके से हुए रातें आवारा हो गईं।
सत्य कुमार प्रेमी
अगर मध्यस्थता हनुमान (परमार्थी) की हो तो बंदर (बाली)और दनुज
अगर मध्यस्थता हनुमान (परमार्थी) की हो तो बंदर (बाली)और दनुज
Sanjay ' शून्य'
♤ ⛳ मातृभाषा हिन्दी हो ⛳ ♤
♤ ⛳ मातृभाषा हिन्दी हो ⛳ ♤
Surya Barman
⚘️महाशिवरात्रि मेरे लेख🌿
⚘️महाशिवरात्रि मेरे लेख🌿
Ms.Ankit Halke jha
💐प्रेम कौतुक-230💐
💐प्रेम कौतुक-230💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
#लघुकविता-
#लघुकविता-
*Author प्रणय प्रभात*
जीवन संघर्ष
जीवन संघर्ष
Omee Bhargava
*कैसे हार मान लूं
*कैसे हार मान लूं
Suryakant Dwivedi
हमसाया
हमसाया
Manisha Manjari
Loading...