Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jan 2024 · 1 min read

जो तुम्हारी ख़ामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाजा न कर सके उसक

जो तुम्हारी ख़ामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाजा न कर सके उसके सामने तकलीफ़ को बयान करना लफ़्ज़ों को जाया करना है – हजरत अली

115 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*
*"ओ पथिक"*
Shashi kala vyas
💐प्रेम कौतुक-562💐
💐प्रेम कौतुक-562💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ज़ेहन से
ज़ेहन से
हिमांशु Kulshrestha
मेरे सब्र की इंतहां न ले !
मेरे सब्र की इंतहां न ले !
ओसमणी साहू 'ओश'
कुण्डलिया-मणिपुर
कुण्डलिया-मणिपुर
दुष्यन्त 'बाबा'
'बेटी की विदाई'
'बेटी की विदाई'
पंकज कुमार कर्ण
लोग गर्व से कहते हैं मै मर्द का बच्चा हूँ
लोग गर्व से कहते हैं मै मर्द का बच्चा हूँ
शेखर सिंह
2604.पूर्णिका
2604.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
मुरझाना तय है फूलों का, फिर भी खिले रहते हैं।
मुरझाना तय है फूलों का, फिर भी खिले रहते हैं।
Khem Kiran Saini
Meditation
Meditation
Ravikesh Jha
अपने चरणों की धूलि बना लो
अपने चरणों की धूलि बना लो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जो तुम्हारी ख़ामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाजा न कर सके उसक
जो तुम्हारी ख़ामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाजा न कर सके उसक
ख़ान इशरत परवेज़
प्रेम
प्रेम
Rashmi Sanjay
नारी
नारी
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
अश्रु की भाषा
अश्रु की भाषा
Shyam Sundar Subramanian
मिसाइल मैन को नमन
मिसाइल मैन को नमन
Dr. Rajeev Jain
**बात बनते बनते बिगड़ गई**
**बात बनते बनते बिगड़ गई**
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
*पिचकारी 【कुंडलिया】*
*पिचकारी 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
धीरे-धीरे ला रहा, रंग मेरा प्रयास ।
धीरे-धीरे ला रहा, रंग मेरा प्रयास ।
sushil sarna
दोहे तरुण के।
दोहे तरुण के।
Pankaj sharma Tarun
एहसास
एहसास
Dr fauzia Naseem shad
"वेदना"
Dr. Kishan tandon kranti
माँ गौरी रूपेण संस्थिता
माँ गौरी रूपेण संस्थिता
Pratibha Pandey
नहीं भुला पाएंगे मां तुमको, जब तक तन में प्राण
नहीं भुला पाएंगे मां तुमको, जब तक तन में प्राण
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
World Books Day
World Books Day
Tushar Jagawat
काश ये मदर्स डे रोज आए ..
काश ये मदर्स डे रोज आए ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
विश्व जनसंख्या दिवस
विश्व जनसंख्या दिवस
Paras Nath Jha
मेरे प्यारे भैया
मेरे प्यारे भैया
Samar babu
गर गुलों की गुल गई
गर गुलों की गुल गई
Mahesh Tiwari 'Ayan'
आज हम याद करते
आज हम याद करते
अनिल अहिरवार
Loading...