Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Feb 2024 · 1 min read

जो चाहने वाले होते हैं ना

जो चाहने वाले होते हैं ना
वो बहुत किस्मत से मिलते हैं
तो अर्ज किया है…..

बहते हुए अशकों की ज़ुबां नहीं होती…
लफ़्ज़ों में मोहब्बत ब्यान नहीं होती…

और मिलें जो मोहब्बत तो कद्र करना…
किस्मत यूं हर किसी पर मेहरबान नहीं होती…!!

🙂🙂❤️

1 Like · 46 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
आज की पंक्तिजन्म जन्म का साथ
आज की पंक्तिजन्म जन्म का साथ
कार्तिक नितिन शर्मा
कविता ....
कविता ....
sushil sarna
दोस्ती
दोस्ती
Mukesh Kumar Sonkar
गरीबों की शिकायत लाजमी है। अभी भी दूर उनसे रोशनी है। ❤️ अपना अपना सिर्फ करना। बताओ यह भी कोई जिंदगी है। ❤️
गरीबों की शिकायत लाजमी है। अभी भी दूर उनसे रोशनी है। ❤️ अपना अपना सिर्फ करना। बताओ यह भी कोई जिंदगी है। ❤️
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
****** घूमते घुमंतू गाड़ी लुहार ******
****** घूमते घुमंतू गाड़ी लुहार ******
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
*धन्य तुलसीदास हैं (मुक्तक)*
*धन्य तुलसीदास हैं (मुक्तक)*
Ravi Prakash
सारे नेता कर रहे, आपस में हैं जंग
सारे नेता कर रहे, आपस में हैं जंग
Dr Archana Gupta
"अजीब फलसफा"
Dr. Kishan tandon kranti
Saso ke dayre khuch is kadar simat kr rah gye
Saso ke dayre khuch is kadar simat kr rah gye
Sakshi Tripathi
हर दिन रोज नया प्रयास करने से जीवन में नया अंदाज परिणाम लाता
हर दिन रोज नया प्रयास करने से जीवन में नया अंदाज परिणाम लाता
Shashi kala vyas
मुझे बेपनाह मुहब्बत है
मुझे बेपनाह मुहब्बत है
*Author प्रणय प्रभात*
चमकते तारों में हमने आपको,
चमकते तारों में हमने आपको,
Ashu Sharma
यारा ग़म नहीं
यारा ग़म नहीं
Surinder blackpen
मेरे ख्याल से जीवन से ऊब जाना भी अच्छी बात है,
मेरे ख्याल से जीवन से ऊब जाना भी अच्छी बात है,
पूर्वार्थ
दोस्त
दोस्त
Pratibha Pandey
किए जिन्होंने देश हित
किए जिन्होंने देश हित
महेश चन्द्र त्रिपाठी
क्या कर लेगा कोई तुम्हारा....
क्या कर लेगा कोई तुम्हारा....
Suryakant Dwivedi
बगावत की बात
बगावत की बात
AJAY PRASAD
एक रूपक ज़िन्दगी का,
एक रूपक ज़िन्दगी का,
Radha shukla
सब्र का फल
सब्र का फल
Bodhisatva kastooriya
जीवन कभी गति सा,कभी थमा सा...
जीवन कभी गति सा,कभी थमा सा...
Santosh Soni
*जातक या संसार मा*
*जातक या संसार मा*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ਸੰਵਿਧਾਨ ਦੀ ਆਤਮਾ
ਸੰਵਿਧਾਨ ਦੀ ਆਤਮਾ
विनोद सिल्ला
आपकी बुद्धिमत्ता को कभी भी एक बार में नहीं आंका जा सकता क्यो
आपकी बुद्धिमत्ता को कभी भी एक बार में नहीं आंका जा सकता क्यो
Rj Anand Prajapati
मेरे अंदर भी इक अमृता है
मेरे अंदर भी इक अमृता है
Shweta Soni
3111.*पूर्णिका*
3111.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
छेड़ कोई तान कोई सुर सजाले
छेड़ कोई तान कोई सुर सजाले
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
3-“ये प्रेम कोई बाधा तो नहीं “
3-“ये प्रेम कोई बाधा तो नहीं “
Dilip Kumar
Lonely is just a word which can't make you so,
Lonely is just a word which can't make you so,
Sukoon
* कभी दूरियों को *
* कभी दूरियों को *
surenderpal vaidya
Loading...