Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 May 2023 · 1 min read

छह घण्टे भी पढ़ नहीं,

छह घण्टे भी पढ़ नहीं,
पाते हैं जो आज
कल बारह घण्टे करें,
लेबरी महाराज
–महावीर उत्तरांचली

2 Likes · 363 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
View all
You may also like:
फायदा उठाया है उसने अपने पद का
फायदा उठाया है उसने अपने पद का
कवि दीपक बवेजा
एक महिला अपनी उतनी ही बात को आपसे छिपाकर रखती है जितनी की वह
एक महिला अपनी उतनी ही बात को आपसे छिपाकर रखती है जितनी की वह
Rj Anand Prajapati
तूणीर (श्रेष्ठ काव्य रचनाएँ)
तूणीर (श्रेष्ठ काव्य रचनाएँ)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मेरी नज़रों में इंतिख़ाब है तू।
मेरी नज़रों में इंतिख़ाब है तू।
Neelam Sharma
वहशीपन का शिकार होती मानवता
वहशीपन का शिकार होती मानवता
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मन के भाव
मन के भाव
Surya Barman
'बेटी बचाओ-बेटी पढाओ'
'बेटी बचाओ-बेटी पढाओ'
Bodhisatva kastooriya
जिंदगी का सफर
जिंदगी का सफर
Dr. Pradeep Kumar Sharma
पाश्चात्य विद्वानों के कविता पर मत
पाश्चात्य विद्वानों के कविता पर मत
कवि रमेशराज
...
...
Ravi Yadav
बड़े भाग मानुष तन पावा
बड़े भाग मानुष तन पावा
आकांक्षा राय
धमकियां शुरू हो गई
धमकियां शुरू हो गई
Basant Bhagawan Roy
चन्द्र की सतह पर उतरा चन्द्रयान
चन्द्र की सतह पर उतरा चन्द्रयान
नूरफातिमा खातून नूरी
वसंत की बहार।
वसंत की बहार।
Anil Mishra Prahari
मुहब्बत कुछ इस कदर, हमसे बातें करती है…
मुहब्बत कुछ इस कदर, हमसे बातें करती है…
Anand Kumar
"नॉनसेंस" का
*Author प्रणय प्रभात*
जाने के बाद .....लघु रचना
जाने के बाद .....लघु रचना
sushil sarna
सृष्टि की अभिदृष्टि कैसी?
सृष्टि की अभिदृष्टि कैसी?
AJAY AMITABH SUMAN
हमें न बताइये,
हमें न बताइये,
शेखर सिंह
*जमानत : आठ दोहे*
*जमानत : आठ दोहे*
Ravi Prakash
फीका त्योहार !
फीका त्योहार !
पाण्डेय चिदानन्द "चिद्रूप"
बहाना मिल जाए
बहाना मिल जाए
Srishty Bansal
शाश्वत, सत्य, सनातन राम
शाश्वत, सत्य, सनातन राम
श्रीकृष्ण शुक्ल
मुकद्दर
मुकद्दर
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
बढ़ रही नारी निरंतर
बढ़ रही नारी निरंतर
surenderpal vaidya
कोई आयत सुनाओ सब्र की क़ुरान से,
कोई आयत सुनाओ सब्र की क़ुरान से,
Vishal babu (vishu)
कहो तो..........
कहो तो..........
Ghanshyam Poddar
23/134.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/134.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आसमान में बादल छाए
आसमान में बादल छाए
Neeraj Agarwal
"हूक"
Dr. Kishan tandon kranti
Loading...