Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Jun 2016 · 1 min read

गुम्मा है साहब !

“गुम्मा है साहब ! ”
*****************************************************************************
– इन्हें पहचानती हो ? -वकील ने जज साहब के सामने उससे पूछा।
– नहीं साहब !
– झूठ बोलती है साहब ये ! मेरे मुवक्किल का सिर फोड़ने की बाद अब ये उसे पहचानने से भी इनकार कर रही है।
– इसे तो जानती होगी ? -वकील ने फिर उस ईंट के टुकड़े को दिखाते हुए पूछा।
– “गुम्मा” है साहब ! इसे हम गरीब लोग जानते भी हैं और पहचानते भी । यही तो है हमारा एकमात्र सहारा ! जो “इन” जैसे कुत्तों का सिर फोड़ने के काम आता है, जब ये झपटते हैं हमारी इज्जत पे !
मामला शीशे की तरह साफ़ हो चुका था।
*****************************************************************************
हरीश चन्द्र लोहुमी, लखनऊ (उ॰प्र॰)
*****************************************************************************

Language: Hindi
Tag: लघु कथा
2 Comments · 186 Views
You may also like:
स्वतंत्रता दिवस
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग१]
Anamika Singh
दिल के रिश्ते
Dr fauzia Naseem shad
समझता है सबसे बड़ा हो गया।
सत्य कुमार प्रेमी
साथ जीने के लिए
surenderpal vaidya
थक गये हैं कदम अब चलेंगे नहीं
Dr Archana Gupta
*"यूँ ही कुछ भी नही बदलता"*
Shashi kala vyas
मैं तुझमें तू मुझमें
Varun Singh Gautam
"मेरे पापा "
Usha Sharma
✍️🌷तुम हक़ीक़त हो, अब फ़साना न बनो🌷✍️
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नरसिंह अवतार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*रामपुर रियासत को कायम रखने का अंतिम प्रयास और रामभरोसे...
Ravi Prakash
हमारा तिरंगा
ओनिका सेतिया 'अनु '
बुद्ध धम्म हमारा।
Buddha Prakash
लिहाज़
पंकज कुमार कर्ण
शिशिर की रात
लक्ष्मी सिंह
✍️ मैं काश हो गया..✍️
'अशांत' शेखर
संविधान /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
बहते हुए लहरों पे
Nitu Sah
तन्हाँ-तन्हाँ सफ़र
VINOD KUMAR CHAUHAN
व्यवस्था का शिकार
Shekhar Chandra Mitra
पूनम की रात में चांद व चांदनी
Ram Krishan Rastogi
मेरी आजादी बाकी है
Deepak Kohli
कहता नहीं मैं अच्छा हूँ
gurudeenverma198
🔥😊 तेरे प्यार ने
N.ksahu0007@writer
सेमल के वृक्ष...!
मनोज कर्ण
“आनंद ” की खोज में आदमी
DESH RAJ
आदमी तनहा दिखाई दे
Dr. Sunita Singh
" आशा की एक किरण "
DrLakshman Jha Parimal
अपनी है, फिर भी पराई है बेटियां
Seema 'Tu hai na'
Loading...