Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 May 2023 · 1 min read

गीत गा लअ प्यार के

चाहे केतनो मसीहा आवस
लोग के मरल कम ना होई
केहू बचा ना पाई ओके
जेकरा लगे दम ना होई…
(१)
दिल के साज टूटे से पहिले
गीत प्यार के गा लअ खुलके
अईसन दिन ना आई कहियो
जब दुनिया में ग़म ना होई…
(२)
मज़हब औरी सियासत के
जबले बाटे मिली भगत
आख़िर तू काहे सोचेलअ
धरती पर मातम ना होई…
(३)
तहार दीया बुझे या जले
रूकी ना तूफान समय के
कवनो तारा के टूटला से
आंख गगन के नम ना होई…
#Geetkar
Shekhar Chandra Mitra
#भोजपुरी_गीतकार #lyricist
#love #life #जिंदगी #मौत
#life #उत्सव #जश्न #गीतकार
#कवि #शायर #जिंदगी #नौजवान

Language: Bhojpuri
Tag: गीत
461 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हमेशा..!!
हमेशा..!!
'अशांत' शेखर
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Insaan badal jata hai
Insaan badal jata hai
Aisha Mohan
My Precious Gems
My Precious Gems
Natasha Stephen
ज़िंदगी चाँद सा नहीं करना
ज़िंदगी चाँद सा नहीं करना
Shweta Soni
खुशी ( Happiness)
खुशी ( Happiness)
Ashu Sharma
तेज़ाब का असर
तेज़ाब का असर
Atul "Krishn"
जोड़ियाँ
जोड़ियाँ
SURYA PRAKASH SHARMA
हरियाणा दिवस की बधाई
हरियाणा दिवस की बधाई
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
दूसरों की लड़ाई में ज्ञान देना बहुत आसान है।
दूसरों की लड़ाई में ज्ञान देना बहुत आसान है।
Priya princess panwar
फ़र्क
फ़र्क
Dr. Pradeep Kumar Sharma
इस क्षितिज से उस क्षितिज तक देखने का शौक था,
इस क्षितिज से उस क्षितिज तक देखने का शौक था,
Smriti Singh
I've lost myself
I've lost myself
VINOD CHAUHAN
"तेरे वादे पर"
Dr. Kishan tandon kranti
हिन्दी के साधक के लिए किया अदभुत पटल प्रदान
हिन्दी के साधक के लिए किया अदभुत पटल प्रदान
Dr.Pratibha Prakash
श्रेष्ठ बंधन
श्रेष्ठ बंधन
Dr. Mulla Adam Ali
भारत कि गौरव गरिमा गान लिखूंगा
भारत कि गौरव गरिमा गान लिखूंगा
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
वो पेड़ को पकड़ कर जब डाली को मोड़ेगा
वो पेड़ को पकड़ कर जब डाली को मोड़ेगा
Keshav kishor Kumar
2558.पूर्णिका
2558.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
रक्षाबंधन का त्यौहार
रक्षाबंधन का त्यौहार
Ram Krishan Rastogi
बांदरो
बांदरो
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
इंतजार
इंतजार
Pratibha Pandey
तोड़कर दिल को मेरे इश्क़ के बाजारों में।
तोड़कर दिल को मेरे इश्क़ के बाजारों में।
Phool gufran
औरत बुद्ध नहीं हो सकती
औरत बुद्ध नहीं हो सकती
Surinder blackpen
जमाना है
जमाना है
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
एक फूल
एक फूल
अनिल "आदर्श"
*एक (बाल कविता)*
*एक (बाल कविता)*
Ravi Prakash
हो रही है ये इनायतें,फिर बावफा कौन है।
हो रही है ये इनायतें,फिर बावफा कौन है।
पूर्वार्थ
■ नि:शुल्क सलाह।।😊
■ नि:शुल्क सलाह।।😊
*प्रणय प्रभात*
............
............
शेखर सिंह
Loading...