Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Dec 2023 · 1 min read

कोशिश करना छोरो मत,

कोशिश करना छोरो मत,
क्योंकि दूसरा व्यक्ति तैयार है
आपके छोड़े हुए अवसर का
लाभ उठाने के लिए।

…. ✍️ रंजीत कुमार पात्रे l

1 Like · 219 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सुनो पहाड़ की.....!!! (भाग - ५)
सुनो पहाड़ की.....!!! (भाग - ५)
Kanchan Khanna
तुम नादानं थे वक्त की,
तुम नादानं थे वक्त की,
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
भुला ना सका
भुला ना सका
Dr. Mulla Adam Ali
दिव्य-भव्य-नव्य अयोध्या
दिव्य-भव्य-नव्य अयोध्या
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
खोने के लिए कुछ ख़ास नहीं
खोने के लिए कुछ ख़ास नहीं
The_dk_poetry
अड़बड़ मिठाथे
अड़बड़ मिठाथे
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
यही पाँच हैं वावेल (Vowel) प्यारे
यही पाँच हैं वावेल (Vowel) प्यारे
Jatashankar Prajapati
ग्लोबल वार्मिंग :चिंता का विषय
ग्लोबल वार्मिंग :चिंता का विषय
कवि अनिल कुमार पँचोली
"अ अनार से"
Dr. Kishan tandon kranti
स्त्री-देह का उत्सव / MUSAFIR BAITHA
स्त्री-देह का उत्सव / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
अधूरा ज्ञान
अधूरा ज्ञान
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
आजकल बहुत से लोग ऐसे भी है
आजकल बहुत से लोग ऐसे भी है
Dr.Rashmi Mishra
तमाशबीन जवानी
तमाशबीन जवानी
Shekhar Chandra Mitra
अतीत
अतीत
Neeraj Agarwal
पतझड़
पतझड़
ओसमणी साहू 'ओश'
संसार के सब रसों में
संसार के सब रसों में
*Author प्रणय प्रभात*
जिसने अपने जीवन में दर्द नहीं झेले उसने अपने जीवन में सुख भी
जिसने अपने जीवन में दर्द नहीं झेले उसने अपने जीवन में सुख भी
Rj Anand Prajapati
लोकतंत्र का मंदिर
लोकतंत्र का मंदिर
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
23/192. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/192. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
पुष्पवाण साधे कभी, साधे कभी गुलेल।
पुष्पवाण साधे कभी, साधे कभी गुलेल।
डॉ.सीमा अग्रवाल
यशस्वी भव
यशस्वी भव
मनोज कर्ण
क्यों नहीं बदल सका मैं, यह शौक अपना
क्यों नहीं बदल सका मैं, यह शौक अपना
gurudeenverma198
कहने को आज है एक मई,
कहने को आज है एक मई,
Satish Srijan
13. पुष्पों की क्यारी
13. पुष्पों की क्यारी
Rajeev Dutta
"सत्य"
Dr. Reetesh Kumar Khare डॉ रीतेश कुमार खरे
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
*अशोक कुमार अग्रवाल : स्वच्छता अभियान जिनका मिशन बन गया*
*अशोक कुमार अग्रवाल : स्वच्छता अभियान जिनका मिशन बन गया*
Ravi Prakash
जीवन का सफर
जीवन का सफर
नवीन जोशी 'नवल'
ग्रंथ
ग्रंथ
Tarkeshwari 'sudhi'
बागों में जीवन खड़ा, ले हाथों में फूल।
बागों में जीवन खड़ा, ले हाथों में फूल।
Suryakant Dwivedi
Loading...