Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
10 Nov 2023 · 1 min read

कुछ अपनें ऐसे होते हैं,

कुछ अपनें ऐसे होते हैं,
जो दिलों में घाव देकर,
मरहम लगाने का काम करते हैं।
कुछ बातें ऐसे करते हैं ,
जो चुभते तो सीनें में है।
पर उन्हें लगता है ,
वे बातें प्यार भरी करते हैं।
न कहते हुए भी सब कह जातें हैं,
दिल में कितनी जगह है ये बता जाते हैं।
समझते हैं सभी को ना समझ वे,
पर खुद ना समझ होते है।
क्या बताए कुछ अपनें ऐसे होते हैं।
…….✍️ योगेन्द्र चतुर्वेदी

1 Like · 242 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हिम बसंत. . . .
हिम बसंत. . . .
sushil sarna
बिहार एवं झारखण्ड के दलक कवियों में विगलित दलित व आदिवासी-चेतना / मुसाफ़िर बैठा
बिहार एवं झारखण्ड के दलक कवियों में विगलित दलित व आदिवासी-चेतना / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
चंद्रकक्षा में भेज रहें हैं।
चंद्रकक्षा में भेज रहें हैं।
Aruna Dogra Sharma
एक आंसू
एक आंसू
Surinder blackpen
मंजिल का आखरी मुकाम आएगा
मंजिल का आखरी मुकाम आएगा
कवि दीपक बवेजा
फितरत
फितरत
Akshay patel
खेल भावनाओं से खेलो, जीवन भी है खेल रे
खेल भावनाओं से खेलो, जीवन भी है खेल रे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
लड्डू गोपाल की पीड़ा
लड्डू गोपाल की पीड़ा
Satish Srijan
* सत्य एक है *
* सत्य एक है *
surenderpal vaidya
राजस्थान में का बा
राजस्थान में का बा
gurudeenverma198
होली के कुण्डलिया
होली के कुण्डलिया
Vijay kumar Pandey
तंज़ीम
तंज़ीम
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तुझे ढूंढने निकली तो, खाली हाथ लौटी मैं।
तुझे ढूंढने निकली तो, खाली हाथ लौटी मैं।
Manisha Manjari
💐प्रेम कौतुक-311💐
💐प्रेम कौतुक-311💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दीपावली
दीपावली
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
मेरी गुड़िया
मेरी गुड़िया
Kanchan Khanna
उस्ताद नहीं होता
उस्ताद नहीं होता
Dr fauzia Naseem shad
3054.*पूर्णिका*
3054.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
हममें आ जायेंगी बंदिशे
हममें आ जायेंगी बंदिशे
Pratibha Pandey
मैं तो महज संसार हूँ
मैं तो महज संसार हूँ
VINOD CHAUHAN
*अयोध्या धाम पावन प्रिय, जगत में श्रेष्ठ न्यारा है (हिंदी गज
*अयोध्या धाम पावन प्रिय, जगत में श्रेष्ठ न्यारा है (हिंदी गज
Ravi Prakash
सावन का महीना
सावन का महीना
Mukesh Kumar Sonkar
12 fail ..👇
12 fail ..👇
Shubham Pandey (S P)
प्यार करो
प्यार करो
Shekhar Chandra Mitra
कहीं चीखें मौहब्बत की सुनाई देंगी तुमको ।
कहीं चीखें मौहब्बत की सुनाई देंगी तुमको ।
Phool gufran
धरा स्वर्ण होइ जाय
धरा स्वर्ण होइ जाय
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
मकसद ......!
मकसद ......!
Sangeeta Beniwal
शायरों के साथ ढल जाती ग़ज़ल।
शायरों के साथ ढल जाती ग़ज़ल।
सत्य कुमार प्रेमी
कविता
कविता
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
मौन
मौन
Shyam Sundar Subramanian
Loading...