Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Jul 2016 · 1 min read

किसी के काम तो आया

मेरा नाकाम होना किसी के काम तो आया,
जुबां पर भूले से ही यूँ मेरा नाम तो आया.

जिए थे साथ वो भीगे से पल हमने भी कभी,
किसी औ की ख़ातिर अब ये विराम तो आया.
__शुचि (भवि)

Language: Hindi
3 Comments · 411 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
हर दिन रोज नया प्रयास करने से जीवन में नया अंदाज परिणाम लाता
हर दिन रोज नया प्रयास करने से जीवन में नया अंदाज परिणाम लाता
Shashi kala vyas
की तरह
की तरह
Neelam Sharma
#दुर्दिन_हैं_सन्निकट_तुम्हारे
#दुर्दिन_हैं_सन्निकट_तुम्हारे
संजीव शुक्ल 'सचिन'
Gazal
Gazal
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
फितरत
फितरत
लक्ष्मी सिंह
बाल वीर दिवस
बाल वीर दिवस
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
खुद से उम्मीद लगाओगे तो खुद को निखार पाओगे
खुद से उम्मीद लगाओगे तो खुद को निखार पाओगे
ruby kumari
पतग की परिणीति
पतग की परिणीति
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
मूर्ख बनाने की ओर ।
मूर्ख बनाने की ओर ।
Buddha Prakash
मां
मां
goutam shaw
नज़र मिला के क्या नजरें झुका लिया तूने।
नज़र मिला के क्या नजरें झुका लिया तूने।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
टाँग इंग्लिश की टूटी (कुंडलिया)
टाँग इंग्लिश की टूटी (कुंडलिया)
Ravi Prakash
2509.पूर्णिका
2509.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
मेनाद
मेनाद
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
जिंदगी
जिंदगी
अखिलेश 'अखिल'
-- तभी तक याद करते हैं --
-- तभी तक याद करते हैं --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
जिंदगी में मस्त रहना होगा
जिंदगी में मस्त रहना होगा
Neeraj Agarwal
जो थक बैठते नहीं है राहों में
जो थक बैठते नहीं है राहों में
REVATI RAMAN PANDEY
आसान कहां होती है
आसान कहां होती है
Dr fauzia Naseem shad
चाहत है बहुत उनसे कहने में डर लगता हैं
चाहत है बहुत उनसे कहने में डर लगता हैं
Jitendra Chhonkar
(15)
(15) " वित्तं शरणं " भज ले भैया !
Kishore Nigam
कवि की कल्पना
कवि की कल्पना
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
युगों की नींद से झकझोर कर जगा दो मुझे
युगों की नींद से झकझोर कर जगा दो मुझे
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
💐प्रेम कौतुक-305💐
💐प्रेम कौतुक-305💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दिल टूट गईल
दिल टूट गईल
Shekhar Chandra Mitra
Mathematics Introduction .
Mathematics Introduction .
Nishant prakhar
अरर मरर के झोपरा / MUSAFIR BAITHA
अरर मरर के झोपरा / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
" अधरों पर मधु बोल "
भगवती प्रसाद व्यास " नीरद "
■ हम हों गए कामयाब चाँद पर...
■ हम हों गए कामयाब चाँद पर...
*Author प्रणय प्रभात*
द कुम्भकार
द कुम्भकार
Satish Srijan
Loading...