Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Sep 2023 · 1 min read

कार्यशैली और विचार अगर अनुशासित हो,तो लक्ष्य को उपलब्धि में

कार्यशैली और विचार अगर अनुशासित हो,तो लक्ष्य को उपलब्धि में परिणत होने में अधिक विलम्ब नहीं होता है।

Paras Nath Jha

188 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Paras Nath Jha
View all
You may also like:
भय के कारण सच बोलने से परहेज न करें,क्योंकि अन्त में जीत सच
भय के कारण सच बोलने से परहेज न करें,क्योंकि अन्त में जीत सच
Babli Jha
कैसा दौर है ये क्यूं इतना शोर है ये
कैसा दौर है ये क्यूं इतना शोर है ये
Monika Verma
चॉकलेट
चॉकलेट
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
सोहनी-महिवाल
सोहनी-महिवाल
Shekhar Chandra Mitra
बेबसी (शक्ति छन्द)
बेबसी (शक्ति छन्द)
नाथ सोनांचली
बनें सब आत्मनिर्भर तो, नहीं कोई कमी होगी।
बनें सब आत्मनिर्भर तो, नहीं कोई कमी होगी।
डॉ.सीमा अग्रवाल
अपने आप को ही सदा श्रेष्ठ व कर्मठ ना समझें , आपकी श्रेष्ठता
अपने आप को ही सदा श्रेष्ठ व कर्मठ ना समझें , आपकी श्रेष्ठता
Seema Verma
कुण्डल / उड़ियाना छंद
कुण्डल / उड़ियाना छंद
Subhash Singhai
" परदेशी पिया "
Pushpraj Anant
कोई यहां अब कुछ नहीं किसी को बताता है,
कोई यहां अब कुछ नहीं किसी को बताता है,
manjula chauhan
कुत्ते / MUSAFIR BAITHA
कुत्ते / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
💐अज्ञात के प्रति-110💐
💐अज्ञात के प्रति-110💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मीठा गान
मीठा गान
rekha mohan
आप और हम
आप और हम
Neeraj Agarwal
क्यों गए थे ऐसे आतिशखाने में ,
क्यों गए थे ऐसे आतिशखाने में ,
ओनिका सेतिया 'अनु '
"दुर्भिक्ष"
Dr. Kishan tandon kranti
विश्व गौरैया दिवस
विश्व गौरैया दिवस
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
गौतम बुद्ध है बड़े महान
गौतम बुद्ध है बड़े महान
Buddha Prakash
गाँधी जयंती
गाँधी जयंती
Surya Barman
आज और कल
आज और कल
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
आलसी व्यक्ति
आलसी व्यक्ति
Paras Nath Jha
पथ नहीं होता सरल
पथ नहीं होता सरल
surenderpal vaidya
शब्द क्यूं गहे गए
शब्द क्यूं गहे गए
Shweta Soni
ज़िंदगी की चाहत में
ज़िंदगी की चाहत में
Dr fauzia Naseem shad
23/74.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/74.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
लौट आओ तो सही
लौट आओ तो सही
मनोज कर्ण
बड़ी मुश्किल से लगा दिल
बड़ी मुश्किल से लगा दिल
कवि दीपक बवेजा
नहीं, बिल्कुल नहीं
नहीं, बिल्कुल नहीं
gurudeenverma198
जिसे ये पता ही नहीं क्या मोहब्बत
जिसे ये पता ही नहीं क्या मोहब्बत
Ranjana Verma
*राजकली देवी शैक्षिक पुस्तकालय*
*राजकली देवी शैक्षिक पुस्तकालय*
Ravi Prakash
Loading...