Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Jul 2023 · 1 min read

// कामयाबी के चार सूत्र //

// कामयाबी के चार सूत्र //
करते जो चमचागिरी, पाते हरदम नोट
अमीर वो बनते सदा, दें औरों को चोट //१.//
ख़्वाहिश अगर करोड़ की, बनिए दादा आप
पिस्तौल पकड़ तानकर, रखो कनपटी नाप //२.//
सौदागर बन वोट का, राजनीति तू खेल
बन जायेगा अरब पति, चाहे होवे जेल //३.//
अरब-खरब यदि खेलना, नेता बनो हुज़ूर
हो जायें तत्काल ही, जीवन के दुख दूर //४.//
–महावीर उत्तरांचली

1 Like · 179 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
View all
You may also like:
चंद्रयान ३
चंद्रयान ३
प्रदीप कुमार गुप्ता
मुझे वो सब दिखाई देता है ,
मुझे वो सब दिखाई देता है ,
Manoj Mahato
पते की बात - दीपक नीलपदम्
पते की बात - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
शब्दों का गुल्लक
शब्दों का गुल्लक
Amit Pathak
👌आज का शेर —
👌आज का शेर —
*Author प्रणय प्रभात*
मैं मधुर भाषा हिन्दी
मैं मधुर भाषा हिन्दी
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
कोशिश मेरी बेकार नहीं जायेगी कभी
कोशिश मेरी बेकार नहीं जायेगी कभी
gurudeenverma198
अमृत वचन
अमृत वचन
Dinesh Kumar Gangwar
हमको इतनी आस बहुत है
हमको इतनी आस बहुत है
Dr. Alpana Suhasini
"प्रेम"
Dr. Kishan tandon kranti
🌷साथ देते है कौन यहाँ 🌷
🌷साथ देते है कौन यहाँ 🌷
Dr.Khedu Bharti
नारायणी
नारायणी
Dhriti Mishra
*सेवानिवृत्ति*
*सेवानिवृत्ति*
पंकज कुमार कर्ण
जो समाज की बनाई व्यस्था पे जितना खरा उतरता है वो उतना ही सम्
जो समाज की बनाई व्यस्था पे जितना खरा उतरता है वो उतना ही सम्
Utkarsh Dubey “Kokil”
पावस की रात
पावस की रात
लक्ष्मी सिंह
vah kaun hai?
vah kaun hai?
ASHISH KUMAR SINGH
सुंदरता हर चीज में होती है बस देखने वाले की नजर अच्छी होनी च
सुंदरता हर चीज में होती है बस देखने वाले की नजर अच्छी होनी च
Neerja Sharma
हमारा संघर्ष
हमारा संघर्ष
पूर्वार्थ
आज कल रिश्ते भी प्राइवेट जॉब जैसे हो गये है अच्छा ऑफर मिलते
आज कल रिश्ते भी प्राइवेट जॉब जैसे हो गये है अच्छा ऑफर मिलते
Rituraj shivem verma
वक्त-वक्त की बात है
वक्त-वक्त की बात है
Pratibha Pandey
मिष्ठी के लिए सलाद
मिष्ठी के लिए सलाद
Manu Vashistha
*देना इतना आसान नहीं है*
*देना इतना आसान नहीं है*
Seema Verma
रातो ने मुझे बहुत ही वीरान किया है
रातो ने मुझे बहुत ही वीरान किया है
कवि दीपक बवेजा
हम बात अपनी सादगी से ही रखें ,शालीनता और शिष्टता कलम में हम
हम बात अपनी सादगी से ही रखें ,शालीनता और शिष्टता कलम में हम
DrLakshman Jha Parimal
#एकअबोधबालक
#एकअबोधबालक
DR ARUN KUMAR SHASTRI
द्रोण की विवशता
द्रोण की विवशता
Dr. Pradeep Kumar Sharma
भाई बहन का रिश्ता बचपन और शादी के बाद का
भाई बहन का रिश्ता बचपन और शादी के बाद का
Rajni kapoor
*चार दिन की जिंदगी में ,कौन-सा दिन चल रहा ? (गीत)*
*चार दिन की जिंदगी में ,कौन-सा दिन चल रहा ? (गीत)*
Ravi Prakash
कोशिश करना छोड़ो मत,
कोशिश करना छोड़ो मत,
Ranjeet kumar patre
बिखरे सपनों की ताबूत पर, दो कील तुम्हारे और सही।
बिखरे सपनों की ताबूत पर, दो कील तुम्हारे और सही।
Manisha Manjari
Loading...