Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Nov 2023 · 1 min read

करवा चौथ@)

करवा चौथ@)
पति से खूब प्रीति बढै निशदिन
इस हेतु ही व्रत ये धारति हैं ।
दीर्घ जीवी बनें नित सुहाग रहे
ये प्रेम की दीपक बारति है।
पति ही परमेश्वर है इनका
शत कोटि अनंग को वारति हैं ।
चाँद के साथ पति मुखडा
विप्र तुलना शशि से ही कारति हैं ।
प्रिय प्रेम की आस रहे हरदम
इस हेतु करवा व्रत धारति हैं ।
सोरह कला का चंदा दिखे
इस हेतु ही चाँद निहारति हैं ।
सब व्रत मे ये पुनीत महा
इस हेतु करवा व्रत धारति हैं ।

विन्ध्यप्रकाश मिश्र विप्र

1 Like · 71 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
जो बैठा है मन के अंदर उस रावण को मारो ना
जो बैठा है मन के अंदर उस रावण को मारो ना
VINOD CHAUHAN
2323.पूर्णिका
2323.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
मानव के बस में नहीं, पतझड़  या  मधुमास ।
मानव के बस में नहीं, पतझड़ या मधुमास ।
sushil sarna
द्रुत विलम्बित छंद (गणतंत्रता दिवस)-'प्यासा
द्रुत विलम्बित छंद (गणतंत्रता दिवस)-'प्यासा"
Vijay kumar Pandey
राष्ट्र निर्माण को जीवन का उद्देश्य बनाया था
राष्ट्र निर्माण को जीवन का उद्देश्य बनाया था
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
असंतुष्ट और चुगलखोर व्यक्ति
असंतुष्ट और चुगलखोर व्यक्ति
Dr.Rashmi Mishra
लोकसभा बसंती चोला,
लोकसभा बसंती चोला,
SPK Sachin Lodhi
LALSA
LALSA
Raju Gajbhiye
मैंने चांद से पूछा चहरे पर ये धब्बे क्यों।
मैंने चांद से पूछा चहरे पर ये धब्बे क्यों।
सत्य कुमार प्रेमी
ईद मुबारक
ईद मुबारक
Satish Srijan
** वर्षा ऋतु **
** वर्षा ऋतु **
surenderpal vaidya
अपात्रता और कार्तव्यहीनता ही मनुष्य को धार्मिक बनाती है।
अपात्रता और कार्तव्यहीनता ही मनुष्य को धार्मिक बनाती है।
Dr MusafiR BaithA
फनीश्वरनाथ रेणु के जन्म दिवस (4 मार्च) पर विशेष
फनीश्वरनाथ रेणु के जन्म दिवस (4 मार्च) पर विशेष
Paras Nath Jha
कोशिस करो कि दोगले लोगों से
कोशिस करो कि दोगले लोगों से
Shankar N aanjna
खुद से मिल
खुद से मिल
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
कहानी- 'भूरा'
कहानी- 'भूरा'
Pratibhasharma
*अभिनंदन उनका करें, जो हैं पलटूमार (हास्य कुंडलिया)*
*अभिनंदन उनका करें, जो हैं पलटूमार (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
श्रीजन के वास्ते आई है धरती पर वो नारी है।
श्रीजन के वास्ते आई है धरती पर वो नारी है।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
हमारे सोचने से
हमारे सोचने से
Dr fauzia Naseem shad
मेरी नज़्म, शायरी,  ग़ज़ल, की आवाज हो तुम
मेरी नज़्म, शायरी, ग़ज़ल, की आवाज हो तुम
अनंत पांडेय "INϕ9YT"
तसव्वुर
तसव्वुर
Shyam Sundar Subramanian
मेरे कान्हा
मेरे कान्हा
umesh mehra
The Little stars!
The Little stars!
Buddha Prakash
"कुछ तो सोचो"
Dr. Kishan tandon kranti
#ग़ज़ल
#ग़ज़ल
*Author प्रणय प्रभात*
बर्फ के टीलों से घर बनाने निकले हैं,
बर्फ के टीलों से घर बनाने निकले हैं,
कवि दीपक बवेजा
हम कैसे कहें कुछ तुमसे सनम ..
हम कैसे कहें कुछ तुमसे सनम ..
Sunil Suman
When life  serves you with surprises your planning sits at b
When life serves you with surprises your planning sits at b
Nupur Pathak
करनी होगी जंग
करनी होगी जंग
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
Meditation
Meditation
Ravikesh Jha
Loading...