Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Dec 2022 · 1 min read

ऐसा कहते हैं सब मुझसे

ऐसा कहते हैं सब मुझसे, हाल कल क्या होगा मेरा।
बनाकर मैं हमदम किसी को, बसा लूं मैं घर मेरा।।
ऐसा कहते हैं सब मुझसे————-।।

दिखातें है लोग हजारों भय, रस्मों-रिवाज का मुझको।
बढ़ेगी शान कैसे मेरी कल, होगा पितृऋण कैसे पूरा।।
ऐसा कहते हैं सब मुझसे————-।।

हस्ती नहीं है कुछ भी मेरी, बिन शादी के जीने से।
कर लूं मैं भी शादी अब, होगा दुःख कम कुछ मेरा।।
ऐसा कहते हैं सब मुझसे————-।।

बना रहा हूँ यह जो महल,करके मेहनत जो इतनी।
सौंपूंगा कल किसको इसे, होगा वारिस कौन मेरा।।
ऐसा कहते हैं सब मुझसे—————।।

यकीन मैं किस पर करुँ , पल में बदल जाते हैं लोग।
रहना चाहता हूँ जी आजाद, कौन है मुमताज़ मेरा।।
ऐसा कहते हैं सब मुझसे—————-।।

शिक्षक एवं साहित्यकार-
गुरुदीन वर्मा उर्फ जी.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां(राजस्थान)

Language: Hindi
Tag: गीत
147 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"गंगा माँ बड़ी पावनी"
Ekta chitrangini
"खाली हाथ"
इंजी. संजय श्रीवास्तव
भोर पुरानी हो गई
भोर पुरानी हो गई
आर एस आघात
सुंदरता हर चीज में होती है बस देखने वाले की नजर अच्छी होनी च
सुंदरता हर चीज में होती है बस देखने वाले की नजर अच्छी होनी च
Neerja Sharma
चार दिन की जिंदगी किस किस से कतरा के चलूं ?
चार दिन की जिंदगी किस किस से कतरा के चलूं ?
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
स्वतंत्र नारी
स्वतंत्र नारी
Manju Singh
है जरूरी हो रहे
है जरूरी हो रहे
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
2901.*पूर्णिका*
2901.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आस्था और चुनौती
आस्था और चुनौती
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
"प्यार का रोग"
Pushpraj Anant
*एक अखंड मनुजता के स्वर, अग्रसेन भगवान हैं (गीत)*
*एक अखंड मनुजता के स्वर, अग्रसेन भगवान हैं (गीत)*
Ravi Prakash
अपने आमाल पे
अपने आमाल पे
Dr fauzia Naseem shad
नारी हो कमज़ोर नहीं
नारी हो कमज़ोर नहीं
Sonam Puneet Dubey
गणतंत्र
गणतंत्र
लक्ष्मी सिंह
तेरी यादें बजती रहती हैं घुंघरूओं की तरह,
तेरी यादें बजती रहती हैं घुंघरूओं की तरह,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
प्रेम और आदर
प्रेम और आदर
ओंकार मिश्र
युवा
युवा
Akshay patel
दोहे
दोहे "हरियाली तीज"
Vaishali Rastogi
शंगोल
शंगोल
Bodhisatva kastooriya
"शायरा सँग होली"-हास्य रचना
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
बाबागिरी
बाबागिरी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
आओ चलें नर्मदा तीरे
आओ चलें नर्मदा तीरे
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
गाँव का दृश्य (गीत)
गाँव का दृश्य (गीत)
प्रीतम श्रावस्तवी
यूॅं बचा कर रख लिया है,
यूॅं बचा कर रख लिया है,
Rashmi Sanjay
गीत प्रतियोगिता के लिए
गीत प्रतियोगिता के लिए
Manisha joshi mani
#आज_की_कविता :-
#आज_की_कविता :-
*प्रणय प्रभात*
मेरे दिल ने देखो ये क्या कमाल कर दिया
मेरे दिल ने देखो ये क्या कमाल कर दिया
shabina. Naaz
समझ
समझ
Dinesh Kumar Gangwar
*पेड़*
*पेड़*
Dushyant Kumar
मानसिक तनाव
मानसिक तनाव
Sunil Maheshwari
Loading...