उसे गुरूर है

उसे गुरूर है अपने चेहरे की मासूमियत पर
उसने मेरी आँखों की गहराई नहीं देखी।
**** ****
जिनका हर इक आंसू मैंने मोती की तरह संभाल रखा था,
उनसे गुजारिश है मुझे मेरी मुस्कान लौट दे।
**** ****
जो शख्स प्यार करता है,वो याद नही आता
वो ही याद आता है, जो प्यार नहीं करता।
**** ****
एक आरज़ू, एक तलाश एक ही इंतजार है
कभी वो भी कहे, मुझे तुमसे प्यार है।
**** ****
ज़रा सी याद क्या आती है तुम्हारी जुल्फ़े
बादलों को अपना रंग फीका लगता है।
**** ****
तन्हाई और ये बैरी इंतजार,
न ख़ुद ख़त्म होंगे न मुझे ख़त्म होने देंगे।
**** ****
बस ये ही सोचकर छू ली हमने बारिश की बूंदें
उन्हें भी यो भिगोया होगा इस बारिश ने कहीं न कहीं।
**** ****

305 Views
You may also like:
बाबासाहेब 'अंबेडकर '
Buddha Prakash
पुस्तकों की पीड़ा
Rakesh Pathak Kathara
कड़वा सच
Rakesh Pathak Kathara
साहित्यकारों से
Rakesh Pathak Kathara
यादों की साजिशें
Manisha Manjari
बे-पर्दे का हुस्न।
Taj Mohammad
राम ! तुम घट-घट वासी
Saraswati Bajpai
प्रेम की साधना
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
* प्रेमी की वेदना *
Dr. Alpa H.
कुछ ख़ास करते है।
Taj Mohammad
सुकून सा ऐहसास...
Dr. Alpa H.
Accept the mistake
Buddha Prakash
बिछड़न [भाग१]
Anamika Singh
सोना
Vikas Sharma'Shivaaya'
शर्म-ओ-हया
Dr. Alpa H.
विश्व मजदूर दिवस पर दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
माँ, हर बचपन का भगवान
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मुस्कुराहटों के मूल्य
Saraswati Bajpai
"ज़िंदगी अगर किताब होती"
पंकज कुमार "कर्ण"
कहां चला अरे उड़ कर पंछी
VINOD KUMAR CHAUHAN
कुछ भी ना साथ रहता है।
Taj Mohammad
तुमसे कोई शिकायत नही
Ram Krishan Rastogi
महँगाई
आकाश महेशपुरी
वैवाहिक वर्षगांठ मुक्तक
अभिनव मिश्र अदम्य
A wise man 'The Ambedkar'
Buddha Prakash
गढ़वाली चित्रकार मौलाराम
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
**अशुद्ध अछूत - नारी **
DR ARUN KUMAR SHASTRI
दादी की कहानी
दुष्यन्त 'बाबा'
राम नवमी
Ram Krishan Rastogi
मां का आंचल
VINOD KUMAR CHAUHAN
Loading...