Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Apr 2023 · 1 min read

इस दुनियां में अलग अलग लोगों का बसेरा है,

इस दुनियां में अलग अलग लोगों का बसेरा है,
कोई भविष्य की चिंता में डूबा ,तो किसी पे छाया अतीत का पहरा है,
भविष्य में क्या होगा ये राज़ बहोत गहरा है,
क्यों,क्योंकि
हमें खुद पर विश्वास bahot गहरा है

1 Like · 189 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
संगीत
संगीत
Neeraj Agarwal
समझौता
समझौता
Dr.Priya Soni Khare
2715.*पूर्णिका*
2715.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
रंगीला बचपन
रंगीला बचपन
Dr. Pradeep Kumar Sharma
खिलौनो से दूर तक
खिलौनो से दूर तक
Dr fauzia Naseem shad
अभिव्यक्ति के माध्यम - भाग 02 Desert Fellow Rakesh Yadav
अभिव्यक्ति के माध्यम - भाग 02 Desert Fellow Rakesh Yadav
Desert fellow Rakesh
गोविंदा श्याम गोपाला
गोविंदा श्याम गोपाला
Bodhisatva kastooriya
कोशिश करना छोड़ो मत,
कोशिश करना छोड़ो मत,
Ranjeet kumar patre
ग़ज़ल सगीर
ग़ज़ल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
संवेदना - अपनी ऑंखों से देखा है
संवेदना - अपनी ऑंखों से देखा है
नवीन जोशी 'नवल'
राम कहने से तर जाएगा
राम कहने से तर जाएगा
Vishnu Prasad 'panchotiya'
*पछतावा*
*पछतावा*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मंजिल एक है
मंजिल एक है
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
"आशा" की चौपाइयां
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
*भारत माता को किया, किसने लहूलुहान (कुंडलिया)*
*भारत माता को किया, किसने लहूलुहान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
"वक्त आ गया है"
Dr. Kishan tandon kranti
इन रावणों को कौन मारेगा?
इन रावणों को कौन मारेगा?
कवि रमेशराज
पग-पग पर हैं वर्जनाएँ....
पग-पग पर हैं वर्जनाएँ....
डॉ.सीमा अग्रवाल
मातर मड़ई भाई दूज
मातर मड़ई भाई दूज
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
तू ही बता, करूं मैं क्या
तू ही बता, करूं मैं क्या
Aditya Prakash
गुब्बारा
गुब्बारा
लक्ष्मी सिंह
पिछले पन्ने 4
पिछले पन्ने 4
Paras Nath Jha
#चिंतन
#चिंतन
*प्रणय प्रभात*
पापा आपकी बहुत याद आती है
पापा आपकी बहुत याद आती है
Kuldeep mishra (KD)
एक खाली बर्तन,
एक खाली बर्तन,
नेताम आर सी
"सैनिक की चिट्ठी"
Ekta chitrangini
प्यासा के कुंडलियां (pyasa ke kundalian) pyasa
प्यासा के कुंडलियां (pyasa ke kundalian) pyasa
Vijay kumar Pandey
मैं तो महज वक्त हूँ
मैं तो महज वक्त हूँ
VINOD CHAUHAN
****भाई दूज****
****भाई दूज****
Kavita Chouhan
मन अपने बसाओ तो
मन अपने बसाओ तो
surenderpal vaidya
Loading...