Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Dec 2022 · 2 min read

“आसमान सँ खसलहूँ आ खजूर पर अटकलहूँ”

डॉ लक्ष्मण झा परिमल
==========================
नव यंत्रक आविष्कार सँ हमरलोकनिक जीवन मे नवीन क्रांतिक उदय भेल आ सम्पूर्ण कार्यकलाप बदलि गेल!आब हमरालोकनि पुरनका विधा केँ बिसरि रहल छी…डाक सेवा ….. …लिफाफ ..अंतर्देशीय पत्र …पोस्ट कार्ड ..टेलीग्राम आ विभिन्य कार्यकलाप क समय लुप्त भ गेल !………. आब इ अधिकांशतः संग्रालय आ इतिहास क पन्ना मे राखि देल गेल अछि !……. गूगल आ इंटरनेट क युगांतकारी उड़ान हमरा सब केँ क्षितिजक अंतिम छोर क ऊँच्चतम शिखर पर आनि रखि देलक ! ……. आब हमरालोकनि गाँम धरि सीमित नहि रहलहूँ । …शहर ………..जिला ………राज्य ………देश …….विदेश ….एतबे नहि सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड हमरा लोकनिक मुठ्ठी मे संचित भ गेल …आ हम एकटा दिव्य “महानायक ” बनि गेलहूँ !
…………. लिखब ……सन्देश पठायब …….टेलीफोन ……..व्हाट्स एप्प …….स्कैप ………मैसेंजर ……..विडिओ कालिंग क माध्यम सँ हम सम्पूर्ण विश्व सँ जुड़ि गेल छी !……….. मित्र बनेबा क प्रतिस्पर्धा द्रुत गति सँ प्रारंभ भ गेल अछि ! ……परञ्च एहि विजय यात्रा मे कखनो -कखनो ह्रदय केराक पात एहन काँपय लगैत अछि !……..
मित्र बनेबा क उत्कंठा किनका नहि होइत छनि ?……. निरंतर हमरा फ्रेंड रिक्वेस्ट अबैत रहैत अछि !……. मित्रता क बंधन मे जुड़बाक उपरांत हम प्रायः -प्रायः सबकेँ स्वागत पत्र लिखैत छी !….. परञ्च अधिकांश लोक त ओहि संदेश केँ तिरस्कार क दैत छथि । ….कियो जे देखियो लैत छथि , त रद्दी क टोकरी मे फेंकि दैत छथि । …
कियो -कियो त लोक आन लोक केँ मूढ़ बनेबा क लेल ‘लाइक ‘ क देताह ! एकर अतिरिक्त किछु गोटे
“very good “ ….
nice …..
great …अच्छा लगा …
इत्यादि कहि कन्नी काइट जाइत छथि !…….
परञ्च हिनकर सजगता त देखू …मैसेंजर मे हाथ हिलेनाई ..HELLO …HI …करनाई आ यदि मौका लागल त व्हाट्स एप्प मे रासलीला क प्रदर्शन मे कोनो कसर नहि छोडताह !…………… आत्मीयता त अकर्मण्यता क आगि मे जरि रहल अछि !………….
हम आभार ..अभिनन्दन ..स्नेह ..स्वागत …सिरोधार्य …..बधाई …प्रणाम ………इत्यादि केँ फोटो साटि दैत छी ! …परञ्च दू आखर नहि लिखबाक चेष्टा करैत छी ! हमरा लोकनि किछु लिखि केँ वा बाजि केँ लोकक हृदय पर विजय प्राप्त क सकैत छी अन्यथा हमरा लोकनि खजूरे पर लटकल रहब !
=================
डॉ लक्ष्मण झा” परिमल”
साउंड हेल्थ क्लिनिक
एस. पी .कॉलेज रोड
दुमका
झारखंड
भारत
12.12.2022

Language: Maithili
Tag: लेख
131 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वन  मोर  नचे  घन  शोर  करे, जब  चातक दादुर  गीत सुनावत।
वन मोर नचे घन शोर करे, जब चातक दादुर गीत सुनावत।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
दिल के टुकड़े
दिल के टुकड़े
Surinder blackpen
वैविध्यपूर्ण भारत
वैविध्यपूर्ण भारत
ऋचा पाठक पंत
🙅POK🙅
🙅POK🙅
*Author प्रणय प्रभात*
* मणिपुर की जो घटना सामने एक विचित्र घटना उसके बारे में किसी
* मणिपुर की जो घटना सामने एक विचित्र घटना उसके बारे में किसी
Vicky Purohit
मुझे धरा पर न आने देना
मुझे धरा पर न आने देना
Gouri tiwari
जिस कदर उम्र का आना जाना है
जिस कदर उम्र का आना जाना है
Harminder Kaur
बेवफाई मुझसे करके तुम
बेवफाई मुझसे करके तुम
gurudeenverma198
सपनो का सफर संघर्ष लाता है तभी सफलता का आनंद देता है।
सपनो का सफर संघर्ष लाता है तभी सफलता का आनंद देता है।
पूर्वार्थ
चुप्पी और गुस्से का वर्णभेद / मुसाफ़िर बैठा
चुप्पी और गुस्से का वर्णभेद / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
"शाश्वत"
Dr. Kishan tandon kranti
तारे दिन में भी चमकते है।
तारे दिन में भी चमकते है।
Rj Anand Prajapati
Thought
Thought
Jyoti Khari
भारत देश
भारत देश
लक्ष्मी सिंह
🚩अमर कोंच-इतिहास
🚩अमर कोंच-इतिहास
Pt. Brajesh Kumar Nayak
परम सत्य
परम सत्य
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अनपढ़ व्यक्ति से ज़्यादा पढ़ा लिखा व्यक्ति जातिवाद करता है आ
अनपढ़ व्यक्ति से ज़्यादा पढ़ा लिखा व्यक्ति जातिवाद करता है आ
Anand Kumar
मैं माँ हूँ
मैं माँ हूँ
Arti Bhadauria
राष्ट्रपिता
राष्ट्रपिता
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
उज्ज्वल भविष्य हैं
उज्ज्वल भविष्य हैं
TARAN VERMA
करनी होगी जंग
करनी होगी जंग
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
परमात्मा रहता खड़ा , निर्मल मन के द्वार (कुंडलिया)
परमात्मा रहता खड़ा , निर्मल मन के द्वार (कुंडलिया)
Ravi Prakash
मुनाफ़िक़ दोस्त उतना ही ख़तरनाक है
मुनाफ़िक़ दोस्त उतना ही ख़तरनाक है
अंसार एटवी
नारी के हर रूप को
नारी के हर रूप को
Dr fauzia Naseem shad
क्षितिज के उस पार
क्षितिज के उस पार
Suryakant Dwivedi
हिम्मत और महब्बत एक दूसरे की ताक़त है
हिम्मत और महब्बत एक दूसरे की ताक़त है
SADEEM NAAZMOIN
मन का जादू
मन का जादू
Otteri Selvakumar
सताया ना कर ये जिंदगी
सताया ना कर ये जिंदगी
Rituraj shivem verma
श्री कृष्ण भजन
श्री कृष्ण भजन
Khaimsingh Saini
अधूरी रह जाती दस्तान ए इश्क मेरी
अधूरी रह जाती दस्तान ए इश्क मेरी
Er. Sanjay Shrivastava
Loading...