Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#4 Trending Author
Jun 26, 2022 · 1 min read

आज मस्ती से जीने दो

मै भला हूँ या बुरा
इसका फैसला लोगो को करने दो
मै जैसी भी हूँ मुझे
आज मस्ती से जीने दो
ढाल लेना एक साँचे में मुझे
अभी किसी को मुझे भला
किसी को मुझे बुरा कहने दो।

~अनामिका

7 Likes · 6 Comments · 86 Views
You may also like:
*अंग्रेजों के सिक्कों में झाँकता इतिहास*
Ravi Prakash
हिंदी दोहे बिषय-मंत्र
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
कभी मेहरबां।
Taj Mohammad
Only Love Remains
Manisha Manjari
✍️वो क्यूँ जला करे.?✍️
'अशांत' शेखर
कबसे चौखट पे उनकी पड़े ही पड़े
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
खुदा बना दे।
Taj Mohammad
भूख सी बेबसी नहीं देखी
Dr fauzia Naseem shad
“माटी ” तेरे रूप अनेक
DESH RAJ
हमारे पास करने को दो ही काम है।
Taj Mohammad
भोरे
spshukla09179
बरसात में साजन और सजनी
Ram Krishan Rastogi
✍️तुम पुकार लो..!✍️
'अशांत' शेखर
मयंक के जन्मदिन पर बधाई
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सबको मतलब है
Dr fauzia Naseem shad
गुरुवर
AMRESH KUMAR VERMA
खिला प्रसून।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
बेटी जब घर से भाग जाती है
Dr. Sunita Singh
नख-शिख हाइकु
Ashwani Kumar Jaiswal
इंतजार
Anamika Singh
आग
Anamika Singh
रहे इहाँ जब छोटकी रेल
आकाश महेशपुरी
दुलहिन परिक्रमा
मनोज कर्ण
खेल-कूद
AMRESH KUMAR VERMA
पक्षियों से कुछ सीखें
Vikas Sharma'Shivaaya'
✍️कालापिला✍️
'अशांत' शेखर
खराब अपना दिमाग तुम,ऐसे ना किया करो
gurudeenverma198
कभी-कभी / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
आमाल।
Taj Mohammad
रिश्तो में मिठास भरते है।
Anamika Singh
Loading...