Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Mar 2023 · 1 min read

आईने में अगर

आईने बाँटना फिर तेरी फितरत न हो।
आईने में अगर जो खुद को भी देखे ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
11 Likes · 290 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Dr fauzia Naseem shad
View all
You may also like:
लक्ष्मी-पूजन का अर्थ है- विकारों से मुक्ति
लक्ष्मी-पूजन का अर्थ है- विकारों से मुक्ति
कवि रमेशराज
जनक दुलारी
जनक दुलारी
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
राष्ट्रीय किसान दिवस
राष्ट्रीय किसान दिवस
Akash Yadav
मेरे सपनों का भारत
मेरे सपनों का भारत
Neelam Sharma
*माटी की संतान- किसान*
*माटी की संतान- किसान*
Harminder Kaur
3192.*पूर्णिका*
3192.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
हिंदी दिवस
हिंदी दिवस
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
“नया मुकाम”
“नया मुकाम”
DrLakshman Jha Parimal
चाय की चुस्की लेते ही कुछ देर तक ऊर्जा शक्ति दे जाती है फिर
चाय की चुस्की लेते ही कुछ देर तक ऊर्जा शक्ति दे जाती है फिर
Shashi kala vyas
ब्रांड. . . .
ब्रांड. . . .
sushil sarna
"दान"
Dr. Kishan tandon kranti
The most awkward situation arises when you lie between such
The most awkward situation arises when you lie between such
Sukoon
अपना समझकर ही गहरे ज़ख्म दिखाये थे
अपना समझकर ही गहरे ज़ख्म दिखाये थे
'अशांत' शेखर
किया पोषित जिन्होंने, प्रेम का वरदान देकर,
किया पोषित जिन्होंने, प्रेम का वरदान देकर,
Ravi Yadav
अवसाद का इलाज़
अवसाद का इलाज़
DR ARUN KUMAR SHASTRI
महावीर की शिक्षाएं, सारी दुनिया को प्रसांगिक हैं
महावीर की शिक्षाएं, सारी दुनिया को प्रसांगिक हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जिंदगी आंदोलन ही तो है
जिंदगी आंदोलन ही तो है
gurudeenverma198
J
J
Jay Dewangan
फ़ितरत
फ़ितरत
Priti chaudhary
नेह का दीपक
नेह का दीपक
Arti Bhadauria
सत्य की खोज
सत्य की खोज
dks.lhp
रखना जीवन में सदा, सुंदर दृष्टा-भाव (कुंडलिया)
रखना जीवन में सदा, सुंदर दृष्टा-भाव (कुंडलिया)
Ravi Prakash
खुशियों का बीमा
खुशियों का बीमा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
कविता
कविता
Rambali Mishra
हजारों  रंग  दुनिया  में
हजारों रंग दुनिया में
shabina. Naaz
हत्या-अभ्यस्त अपराधी सा मुख मेरा / MUSAFIR BAITHA
हत्या-अभ्यस्त अपराधी सा मुख मेरा / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
एक छोटा सा दर्द भी व्यक्ति के जीवन को रद्द कर सकता है एक साध
एक छोटा सा दर्द भी व्यक्ति के जीवन को रद्द कर सकता है एक साध
Rj Anand Prajapati
स्मृति शेष अटल
स्मृति शेष अटल
कार्तिक नितिन शर्मा
जो मुस्किल में छोड़ जाए वो यार कैसा
जो मुस्किल में छोड़ जाए वो यार कैसा
Kumar lalit
■सामयिक दोहा■
■सामयिक दोहा■
*Author प्रणय प्रभात*
Loading...