साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: शालिनी साहू

शालिनी साहू
Posts 14
Total Views 83

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

कुछ देर ठहरो.. .

कुछ देर और ठहरो अभी बातें बहुत बाकी हैं! हवा के इस रुख से [...]

गर्मी के चटपटे…

सूरज भइया के ये नखरे! अब सबके पसीने छुटा रहे हैं हर व्यक्ति की [...]

नेता जी के कारनामे…

मौसमी फलों के सेवन की तरह है ,चुनावी मौसम में नेताओं का [...]

हो गये अब तुम बड़े…

. अब तुम बड़े हो गये बेटा मैं अपने सब अधिकार खो चली! कभी मेरे [...]

मुश्किलों को नाकाम करना..

हर पहलू पर काम करना परेशानियों को हमेशा नाकाम करना . मिल [...]

प्यारी बहना… .

"बहना"कभी आँसुओं के संग मत बहना हमेशा हर घड़ी संग-संग [...]

दिल के मेहमान… .

दिल में रह कर दिल के मेहमान बन गये नजरों में मुहब्बत भरके [...]

घरौंदा….

घरौंदा... ख्वाबों का घरौंदा मिलकर बनाया था कभी साथ रहने की [...]

हर घड़ी कदम बढ़ाते रहो…

हर घड़ी कदम बढ़ाते रहो मुश्किलों के बीच रास्ता बनाते रहो! [...]

इबारतें जीवन की…

इबारतें लिख दी तुमने मेरे जीवन की मसले इस ज़िन्दगी के बस हल [...]

यादों के सहारे

एक दिन और गुजर गया तुम सबकी यादों के सहारे! . दृढ़ता भी है [...]

कहानी

नोटों का कारनामा:दाँव पर लगी प्रेमिका की शादी.... . चारों तरफ [...]

कविता

देवउठनी एकादशी की हार्दिक शुभकामनाएँ..... सूप की पिटाई गन्ने [...]

कविता

किसी का बेवजह रूठ जाना भी क्या रूठना हुआ! बिना वादे किये [...]