साहित्यपीडिया पर अपनी रचनाएं प्रकाशित करने के लिए यहाँ रजिस्टर करें- Register
अगर रजिस्टर कर चुके हैं तो यहाँ लोगिन करें- Login

Author: पारसमणि अग्रवाल

पारसमणि अग्रवाल
Posts 16
Total Views 431

विधाएं

गीतगज़ल/गीतिकाकवितामुक्तककुण्डलियाकहानीलघु कथालेखदोहेशेरकव्वालीतेवरीहाइकुअन्य

गोस्वामी तुलसीदास के प्रिय राम

संवत 1956 की श्रावण शुक्ल सप्तमी के दिन जन्में हिन्दी साहित्य [...]

समय मिला तो गरीबो को मिटाने का साहस करूँगा

एक दिन मै सफर पर जा रहा था। एक भिखारी भीख माँग रहा था। मैने [...]

भगतसिंह पैदा हो, मगर पड़ोसी के घर में

अरे..रे..रे, आप गलत सोच रहे है, हम उत्तेजित नहीं हो रहे है बल्कि [...]

क्या उरई का नाम गिनीज बुक में दर्ज करा पाएंगे मच्छर ?

क्या उरई का नाम गिनीज बुक में दर्ज करा पाएंगे मच्छर ? भले ही यह [...]

माना कि आप सूरज हो मगर ढलते हुये

अपनों ने हमें जीने का नजरिया सिखा दिया। ठोकरो ने हमें चलना [...]

मेरा हक, उन्हीं के कुत्ते खाते है।

अब वो हर रोज दीवाली मनाते है। अच्छे दिन नस्ल पहचान कर आते [...]

खण्डहर में तब्दील किला बदल सकता तकदीर

रिपोर्ट- पारसमणि अग्रवाल अपने एक निजी कार्य से जतारा के [...]

बढ़ती बेरोजगारी के लिये सिर्फ सरकार जिम्मेदार नही

देश की जटिल समस्याओं की लिस्ट में अपना नाम टॉप समस्याओं में [...]

दूर होकर भी पास हो तुम।

सांसो का विश्वास हो तुम। धड़कनों की आस हो तुम । करवटों में बीत [...]

नाकामियों को छुपाने के लिये किया जाने लगा है मुआवजा का इस्तेमाल

भारत को एक कृषि प्रधान देश कहा जाता है लेकिन साहिब, जरा गौर [...]

कफ़न ओढ़ने को मजबूर है प्रतिभा

भारतीय जन नाट्य संघ की पत्रिका में प्रकाशित प्रधान सम्पादक [...]

बेशक बहुत कीमत थी गुजरे जमाने में

बिछड़ गये कई अपने तुम्ही गले लगाओ। यार कोई तो अब एक नई आस [...]

महिला दिवस विशेष- नारी विमर्श का कड़वा सच

आधुनिक परिवेश में अधिकांश लेखकों द्वारा नारी विमर्श पर सृजन [...]

चाहिये था रोजगार,मिली बेरोजगारी

जी हाँ, "चाहिये था रोजगार मिली बेरोजगारी" ये किसी हास्यपद [...]

वादा आज तुम तोड़ देना

वादा आज तुम तोड़ देना। बेवफाओं में नाम जोड़ देना। लिखी थी [...]

यह कैसा प्यार

प्यार शब्द का कानों को स्मरण होते ही मन में एक अजीब सी उमंग एक [...]