Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings

**Truth is perennial fruit**

If we discuss,
Truth is a,
Expedition,
Itself,
To make it’s path,
special,
There is need,
Of sacrifice,
In every field,
Of life,
Truth akin to the fire,
Which does not,
Care water also,
In the form hostility,
Because it has
Fuel of,
Relinquishment,
Truth is like a tree,
Which gives perennial fruits,
Of self respect.

©Abhishek Parashar 💐💐💐💐

1 Like · 2 Comments · 264 Views
You may also like:
मेरे पापा
Anamika Singh
ये दिल मेरा था, अब उनका हो गया
Ram Krishan Rastogi
नदी बन जा तू
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
"बदलाव की बयार"
Ajit Kumar "Karn"
अपने दिल को ही
Dr fauzia Naseem shad
फ़ायदा कुछ नहीं वज़ाहत का ।
Dr fauzia Naseem shad
मुँह इंदियारे जागे दद्दा / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
दिल का यह
Dr fauzia Naseem shad
उसे देख खिल जातीं कलियांँ
श्री रमण 'श्रीपद्'
रूठ गई हैं बरखा रानी
Dr Archana Gupta
बाबूजी! आती याद
श्री रमण 'श्रीपद्'
किरदार
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
आज मस्ती से जीने दो
Anamika Singh
"पधारो, घर-घर आज कन्हाई.."
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
कुछ नहीं
Dr fauzia Naseem shad
हमें अब राम के पदचिन्ह पर चलकर दिखाना है
Dr Archana Gupta
Forest Queen 'The Waterfall'
Buddha Prakash
हैं पिता, जिनकी धरा पर, पुत्र वह, धनवान जग में।।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
जुद़ा किनारे हो गये
शेख़ जाफ़र खान
जब भी तन्हाईयों में
Dr fauzia Naseem shad
चुनिंदा अशआर
Dr fauzia Naseem shad
ख़्वाहिशें बे'लिबास थी
Dr fauzia Naseem shad
परखने पर मिलेगी खामियां
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
✍️पढ़ रही हूं ✍️
Vaishnavi Gupta
आस
लक्ष्मी सिंह
कण-कण तेरे रूप
श्री रमण 'श्रीपद्'
* सत्य,"मीठा या कड़वा" *
मनोज कर्ण
💔💔...broken
Palak Shreya
पत्नि जो कहे,वह सब जायज़ है
Ram Krishan Rastogi
नदी की अभिलाषा / (गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
Loading...