Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
11 Mar 2023 · 1 min read

Sukun-ye jung chal rhi hai,

Sukun-ye jung chal rhi hai,
Samaj ki buniyade machal rahi hai .
Sas lena bhi dushbhar ho gya hai ,
Charo taraf lashe hi lashe h .
Khuch lashe bolti hai ,
to khuch jamin me dafan hai.
Jarurate badh rahi hai ,
Amdani kam padd rahi hai,
Koi kaise khush kre gairo ko
Apno ki hi jb chal badal rahi hai . 😍 by sakshi

63 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
“ अपनों में सब मस्त हैं ”
“ अपनों में सब मस्त हैं ”
DrLakshman Jha Parimal
*वोटर के बड़-भाग (हास्य कुंडलिया)*
*वोटर के बड़-भाग (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
# डॉ अरुण कुमार शास्त्री
# डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बाल कविता
बाल कविता
आर.एस. 'प्रीतम'
काग़ज़ के पुतले बने,
काग़ज़ के पुतले बने,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सिर्फ लिखती नही कविता,कलम को कागज़ पर चलाने के लिए //
सिर्फ लिखती नही कविता,कलम को कागज़ पर चलाने के लिए //
गुप्तरत्न
मैं भटकता ही रहा दश्त-ए-शनासाई में
मैं भटकता ही रहा दश्त-ए-शनासाई में
Anis Shah
नेह का दीपक
नेह का दीपक
Arti Bhadauria
मैं चांद को पाने का सपना सजाता हूं।
मैं चांद को पाने का सपना सजाता हूं।
Dr. ADITYA BHARTI
क्या यही प्यार है
क्या यही प्यार है
gurudeenverma198
अब की बार पत्थर का बनाना ए खुदा
अब की बार पत्थर का बनाना ए खुदा
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
क्या मागे माँ तुझसे हम, बिन मांगे सब पाया है
क्या मागे माँ तुझसे हम, बिन मांगे सब पाया है
Anil chobisa
झरना
झरना
Satish Srijan
कुछ पंक्तियाँ
कुछ पंक्तियाँ
आकांक्षा राय
शोर जब-जब उठा इस हृदय में प्रिये !
शोर जब-जब उठा इस हृदय में प्रिये !
Arvind trivedi
हमें भी देख जिंदगी,पड़े हैं तेरी राहों में।
हमें भी देख जिंदगी,पड़े हैं तेरी राहों में।
Surinder blackpen
चाय का निमंत्रण
चाय का निमंत्रण
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
संस्कृति से संस्कृति जुड़े, मनहर हो संवाद।
संस्कृति से संस्कृति जुड़े, मनहर हो संवाद।
डॉ.सीमा अग्रवाल
जिस्म तो बस एक जरिया है, प्यार दो रूहों की कहानी।
जिस्म तो बस एक जरिया है, प्यार दो रूहों की कहानी।
Manisha Manjari
मां का आंचल(Happy mothers day)👨‍👩‍👧‍👧
मां का आंचल(Happy mothers day)👨‍👩‍👧‍👧
Ms.Ankit Halke jha
"नया अवतार"
Dr. Kishan tandon kranti
हार कर भी जो न हारे
हार कर भी जो न हारे
AMRESH KUMAR VERMA
हर तरफ़ तन्हाइयों से लड़ रहे हैं लोग
हर तरफ़ तन्हाइयों से लड़ रहे हैं लोग
Shivkumar Bilagrami
💐प्रेम कौतुक-376💐
💐प्रेम कौतुक-376💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
शमा से...!!!
शमा से...!!!
Kanchan Khanna
ना जाने क्यों आज वक्त ने हालात बदल
ना जाने क्यों आज वक्त ने हालात बदल
Vishal babu (vishu)
"इससे पहले कि बाय हो जाए।
*Author प्रणय प्रभात*
फूल मोंगरा
फूल मोंगरा
Vijay kannauje
गजल
गजल
Vijay kumar Pandey
शायरी
शायरी
श्याम सिंह बिष्ट
Loading...