Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 4, 2021 · 1 min read

Past Glory

Don’t glorified them.
They were only kings,
Not any freedom fighters.
They fought only for themselves
Neither their country
Nor their states.

318 Views
You may also like:
पायल
Dr. Sunita Singh
मां
Gaurav Dehariya साहित्य गौरव
दिल्लगी
Harshvardhan "आवारा"
हमारे जैसा कोई और....
sangeeta beniwal
पल
sangeeta beniwal
हर घर तिरंगा प्यारा हो - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
इक ख्वाहिश है।
Taj Mohammad
पीकर जी भर मधु-प्याला
श्री रमण 'श्रीपद्'
सर्वश्रेष्ठ
Seema 'Tu haina'
सुखला से सावन के आहत किसान बा।।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
धार छंद "आज की दशा"
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
अंदाज़।
Taj Mohammad
पिता
Neha Sharma
खुद को तुम पहचानो नारी [भाग २]
Anamika Singh
✍️आसमाँ के परिंदे ✍️
Vaishnavi Gupta
'बादल' (जलहरण घनाक्षरी)
Godambari Negi
प्रेरक संस्मरण
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
क्यों मार दिया,सिद्दू मूसावाले को
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
🌺🍀दोषा: च एतेषां सत्ता🍀🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
" एक हद के बाद"
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
✍️जिंदगी के सैलाब ✍️
'अशांत' शेखर
इंद्रधनुष
Arjun Chauhan
तुझसे रूठ कर
Sadanand Kumar
मेरी भोली ''माँ''
पाण्डेय चिदानन्द
यह जिन्दगी क्या चाहती है
Anamika Singh
सितम पर सितम।
Taj Mohammad
'कैसी घबराहट'
Godambari Negi
ए. और. ये , पंचमाक्षर , अनुस्वार / अनुनासिक ,...
Subhash Singhai
पिता एक विश्वास - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
तबाही
Gaurav Dehariya साहित्य गौरव
Loading...