Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
2 Mar 2023 · 1 min read

💐Prodigy Love-28💐

Oh Dear!
Where are you seeing?
See there, where am I?
I am seeing you before.
It is fair landscape of our life.
Nothing is far from our hearts.
Feelings of humbleness is prevail.
We stand with our insight.why?
Inner Eyes give us courage to stand in difficulty.
All this depend on our fathom of heart.
And where is fathom,let it explore.
It is not a gag.
Enrich your power of thoughts.
To connect everything within and slowly.
It necessitates every facet of life.
And it become much decent with joy of true love.
Love needs fidelity.
It is true.
Thinks this.
Oh Dear!

©® Abhishek Parashar “Aanand”

86 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
तेरी सारी चालाकी को अब मैंने पहचान लिया ।
तेरी सारी चालाकी को अब मैंने पहचान लिया ।
Rajesh vyas
तू प्रतीक है समृद्धि की
तू प्रतीक है समृद्धि की
gurudeenverma198
गोधरा
गोधरा
Prakash Chandra
*मुख पर गजब पर्दा पड़ा है क्या करें【मुक्तक 】*
*मुख पर गजब पर्दा पड़ा है क्या करें【मुक्तक 】*
Ravi Prakash
दोस्तों के साथ धोखेबाजी करके
दोस्तों के साथ धोखेबाजी करके
ruby kumari
कोरा संदेश
कोरा संदेश
Manisha Manjari
■ यक़ीन मानिएगा...
■ यक़ीन मानिएगा...
*Author प्रणय प्रभात*
उसके सवालों का जवाब हम क्या देते
उसके सवालों का जवाब हम क्या देते
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
मन की भाषा
मन की भाषा
Satish Srijan
***
*** " कभी-कभी...! " ***
VEDANTA PATEL
दुनिया के मेले
दुनिया के मेले
Shekhar Chandra Mitra
बेटियां! दोपहर की झपकी सी
बेटियां! दोपहर की झपकी सी
Manu Vashistha
काले काले बादल आयें
काले काले बादल आयें
Chunnu Lal Gupta
जल खारा सागर का
जल खारा सागर का
Dr Nisha nandini Bhartiya
"आशा" की कुण्डलियाँ"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
मीठा शहद बनाने वाली मधुमक्खी भी डंक मार सकती है इसीलिए होशिय
मीठा शहद बनाने वाली मधुमक्खी भी डंक मार सकती है इसीलिए होशिय
तरुण सिंह पवार
अधूरे ख़्वाब की जैसे
अधूरे ख़्वाब की जैसे
Dr fauzia Naseem shad
शब्द कम पड़ जाते हैं,
शब्द कम पड़ जाते हैं,
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
इतना बवाल मचाएं हो के ये मेरा हिंदुस्थान है
इतना बवाल मचाएं हो के ये मेरा हिंदुस्थान है
'अशांत' शेखर
सुप्रभात गीत
सुप्रभात गीत
Ravi Ghayal
बेटी
बेटी
Sushil chauhan
नव बर्ष 2023 काआगाज
नव बर्ष 2023 काआगाज
Dr. Girish Chandra Agarwal
हमारा सब्र तो देखो
हमारा सब्र तो देखो
Surinder blackpen
ग़ज़ल - ख़्वाब मेरा
ग़ज़ल - ख़्वाब मेरा
Mahendra Narayan
उड़ते हुए आँचल से दिखती हुई तेरी कमर को छुपाना चाहता हूं
उड़ते हुए आँचल से दिखती हुई तेरी कमर को छुपाना चाहता हूं
Vishal babu (vishu)
उम्र का लिहाज
उम्र का लिहाज
Vijay kannauje
Sometimes words are not as desperate as feelings.
Sometimes words are not as desperate as feelings.
Sakshi Tripathi
तिलक-विआह के तेलउँस खाना
तिलक-विआह के तेलउँस खाना
आकाश महेशपुरी
माँ सिर्फ़ वात्सल्य नहीं
माँ सिर्फ़ वात्सल्य नहीं
Anand Kumar
💐अज्ञात के प्रति-116💐
💐अज्ञात के प्रति-116💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...