Dec 17, 2021 · 1 min read

My Expessions

Myth and Reality are constituted by individual belief and perception ; which are tested on the platform of reasoning.

81 Views
You may also like:
बेटी की मायका यात्रा
Ashwani Kumar Jaiswal
श्रद्धा और सबुरी ....,
Vikas Sharma'Shivaaya'
ग़ज़ल- इशारे देखो
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
राह जो तकने लगे हैं by Vinit Singh Shayar
Vinit Singh
शासन वही करता है
gurudeenverma198
पिता के रिश्ते में फर्क होता है।
Taj Mohammad
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग४]
Anamika Singh
माँ तुम्हें सलाम हैं।
Anamika Singh
एक जंग, गम के संग....
Aditya Prakash
" मां" बच्चों की भाग्य विधाता
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
'माँ मुझे बहुत याद आती हैं'
Rashmi Sanjay
नीति के दोहे 2
Rakesh Pathak Kathara
💐💐प्रेम की राह पर-15💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मेरे पिता है प्यारे पिता
Vishnu Prasad 'panchotiya'
कल जब हम तुमसे मिलेंगे
Saraswati Bajpai
मजदूर बिना विकास असंभव ..( मजदूर दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
मैं बहती गंगा बन जाऊंगी।
Taj Mohammad
ग्रीष्म ऋतु भाग ४
Vishnu Prasad 'panchotiya'
राम नाम ही परम सत्य है।
Anamika Singh
रिश्तों की डोर
मनोज कर्ण
कभी भीड़ में…
Rekha Drolia
कुछ लोग यूँ ही बदनाम नहीं होते...
मनोज कर्ण
पिता के जैसा......नहीं देखा मैंने दुजा
Dr. Alpa H.
पहचान लेना तुम।
Taj Mohammad
(स्वतंत्रता की रक्षा)
Prabhudayal Raniwal
महामोह की महानिशा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
तुम्हारी चाय की प्याली / लवकुश यादव "अज़ल"
लवकुश यादव "अज़ल"
पिता जी
Rakesh Pathak Kathara
Loading...