Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Mar 2023 · 1 min read

Maine anshan jari rakha

Maine anshan jari rakha
Teri khahishe pura kardi
Khud ko khali rakha .
Are maine bhi kya itna
Khud ko jajbati rakha

233 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
"तुर्रम खान"
Dr. Kishan tandon kranti
राम काज में निरत निरंतर
राम काज में निरत निरंतर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सुहावना मौसम
सुहावना मौसम
AMRESH KUMAR VERMA
आज हमने सोचा
आज हमने सोचा
shabina. Naaz
एक नायाब मौका
एक नायाब मौका
Aditya Prakash
तन माटी का
तन माटी का
Neeraj Agarwal
मानव और मशीनें
मानव और मशीनें
Mukesh Kumar Sonkar
* तिस लाग री *
* तिस लाग री *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
किसी के साथ दोस्ती करना और दोस्ती को निभाना, किसी से मुस्कुर
किसी के साथ दोस्ती करना और दोस्ती को निभाना, किसी से मुस्कुर
Anand Kumar
सावन म वैशाख समा गे
सावन म वैशाख समा गे
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
लेट्स मि लिव अलोन
लेट्स मि लिव अलोन
gurudeenverma198
मां मेरे सिर पर झीना सा दुपट्टा दे दो ,
मां मेरे सिर पर झीना सा दुपट्टा दे दो ,
Manju sagar
माई री [भाग२]
माई री [भाग२]
Anamika Singh
पापा को मैं पास में पाऊँ
पापा को मैं पास में पाऊँ
Dr. Pratibha Mahi
धन्यवाद कोरोना
धन्यवाद कोरोना
Arti Bhadauria
माँ स्कंदमाता
माँ स्कंदमाता
Vandana Namdev
यदि आप बार बार शिकायत करने की जगह
यदि आप बार बार शिकायत करने की जगह
Paras Nath Jha
✍️हर बूँद की दास्ताँ✍️
✍️हर बूँद की दास्ताँ✍️
'अशांत' शेखर
मेरे पिता
मेरे पिता
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
■ आज की बात...
■ आज की बात...
*Author प्रणय प्रभात*
ज़िंदगी को दर्द
ज़िंदगी को दर्द
Dr fauzia Naseem shad
अचानक जब कभी मुझको हाँ तेरी याद आती है
अचानक जब कभी मुझको हाँ तेरी याद आती है
Johnny Ahmed 'क़ैस'
रहना चाहें स्वस्थ तो , खाएँ प्रतिदिन सेब(कुंडलिया)
रहना चाहें स्वस्थ तो , खाएँ प्रतिदिन सेब(कुंडलिया)
Ravi Prakash
सर्वे भवन्तु सुखिन:
सर्वे भवन्तु सुखिन:
Shekhar Chandra Mitra
कुछ मीठे से शहद से तेरे लब लग रहे थे
कुछ मीठे से शहद से तेरे लब लग रहे थे
Sonu sugandh
की हरी नाम में सब कुछ समाया ,ओ बंदे तो बाहर क्या देखने गया,
की हरी नाम में सब कुछ समाया ,ओ बंदे तो बाहर क्या देखने गया,
Vandna thakur
Advice
Advice
Shyam Sundar Subramanian
संविधान निर्माता को मेरा नमन
संविधान निर्माता को मेरा नमन
Surabhi bharati
💐योगं विना मुक्ति: नः💐
💐योगं विना मुक्ति: नः💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बापू तेरे देश में...!!
बापू तेरे देश में...!!
Kanchan Khanna
Loading...