Keep the life in motion

Keep The Life in Motion
*************************

Sensitivity of emotions
Keep the life in a motion

Happiness and sadness
Important life’s notions

Having no way to survive
Just to have precautions

Senses are bases of life
Be awareness of cautions

Humanism is dependent
Colours of several lotions

Honesty is the best policy
Mechanism of promotion

Tales and the dishonesty
Spread allover commotion

Mistrust misunderstanding
Create very big explosions

Sukhwinder says be aware
Otherwise go in corrosion
***************************
Sukhvinder Singh Manseerat
Kheri Rao Wali (Kaithal)

140 Views
You may also like:
લંબાવને 'તું' તારો હાથ 'મારા' હાથમાં...
Dr. Alpa H.
बस तुम्हारी कमी खलती है
Krishan Singh
बुद्ध या बुद्धू
Priya Maithil
चूँ-चूँ चूँ-चूँ आयी चिड़िया
Pt. Brajesh Kumar Nayak
रुक जा रे पवन रुक जा ।
Buddha Prakash
नन्हा बीज
मनोज कर्ण
हिन्दी साहित्य का फेसबुकिया काल
मनोज कर्ण
पापा जी
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
एक पिता की जान।
Taj Mohammad
यूं रूबरू आओगे।
Taj Mohammad
नाम
Ranjit Jha
तुम्हारी चाय की प्याली / लवकुश यादव "अज़ल"
लवकुश यादव "अज़ल"
रेलगाड़ी- ट्रेनगाड़ी
Buddha Prakash
मैं पिता हूँ
सूर्यकांत द्विवेदी
नयी सुबह फिर आएगी...
मनोज कर्ण
उन्हें आज वृद्धाश्रम छोड़ आये
Manisha Manjari
लहजा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
मैं मजदूर हूँ!
Anamika Singh
शब्द नही है पिता जी की व्याख्या करने को।
Taj Mohammad
नाथूराम गोडसे
Anamika Singh
अंदाज़।
Taj Mohammad
"हमारी यारी वही है पुरानी"
Dr. Alpa H.
सुनो ! हे राम ! मैं तुम्हारा परित्याग करती हूँ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
उपहार की भेंट
Buddha Prakash
हवलदार का करिया रंग (हास्य कविता)
दुष्यन्त 'बाबा'
इश्क में तुम्हारे गिरफ्तार हो गए।
Taj Mohammad
बहुआयामी वात्सल्य दोहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
खेतों की मेड़ , खेतों का जीवन
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
राम ! तुम घट-घट वासी
Saraswati Bajpai
मां तो मां होती है ( मातृ दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
Loading...