Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Mar 2023 · 1 min read

It is not necessary to be beautiful for beauty,

It is not necessary to be beautiful for beauty,
It is an element of happiness 😍 by sakshi

66 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
कुछ मत कहो
कुछ मत कहो
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
सफ़र
सफ़र
Er.Navaneet R Shandily
मौत की आड़ में
मौत की आड़ में
Dr fauzia Naseem shad
मुस्कान
मुस्कान
नवीन जोशी 'नवल'
उमेश शुक्ल के हाइकु
उमेश शुक्ल के हाइकु
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
💐Prodigy Love-11💐
💐Prodigy Love-11💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
# शुभ - संध्या .......
# शुभ - संध्या .......
Chinta netam " मन "
आओ ...
आओ ...
Dr Manju Saini
*बहू- बेटी- तलाक* कहानी लेखक: राधाकिसन मूंदड़ा, सूरत।
*बहू- बेटी- तलाक* कहानी लेखक: राधाकिसन मूंदड़ा, सूरत।
Radhakishan Mundhra
गौरैया दिवस
गौरैया दिवस
Surinder blackpen
ज़माने में बहुत लोगों से बहुत नुकसान हुआ
ज़माने में बहुत लोगों से बहुत नुकसान हुआ
शिव प्रताप लोधी
*जीवन में खुश रहने की वजह ढूँढना तो वाजिब बात लगती है पर खोद
*जीवन में खुश रहने की वजह ढूँढना तो वाजिब बात लगती है पर खोद
Seema Verma
जीभर न मिलीं रोटियाँ, हमको तो दो जून
जीभर न मिलीं रोटियाँ, हमको तो दो जून
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मतिभ्रष्ट
मतिभ्रष्ट
Shyam Sundar Subramanian
एक पते की बात
एक पते की बात
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मां के आंचल में
मां के आंचल में
Satish Srijan
दोस्ती से हमसफ़र
दोस्ती से हमसफ़र
Seema gupta,Alwar
.....★.....
.....★.....
Abhishek Shrivastava "Shivaji"
क्या बचा  है अब बदहवास जिंदगी के लिए
क्या बचा है अब बदहवास जिंदगी के लिए
सिद्धार्थ गोरखपुरी
"समझदार से नासमझी की
*Author प्रणय प्रभात*
"वक्त वक्त की बात"
Dr. Kishan tandon kranti
चमत्कार को नमस्कार
चमत्कार को नमस्कार
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
खाते मोबाइल रहे, हम या हमको दुष्ट (कुंडलिया)
खाते मोबाइल रहे, हम या हमको दुष्ट (कुंडलिया)
Ravi Prakash
दोहे... चापलूस
दोहे... चापलूस
लक्ष्मीकान्त शर्मा 'रुद्र'
माना के तुम ने पा लिया
माना के तुम ने पा लिया
shabina. Naaz
2290.पूर्णिका
2290.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
थक गई हूं
थक गई हूं
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
!! निरीह !!
!! निरीह !!
Chunnu Lal Gupta
बुद्ध तुम मेरे हृदय में
बुद्ध तुम मेरे हृदय में
Buddha Prakash
राम हमारी आस्था, राम अमिट विश्वास।
राम हमारी आस्था, राम अमिट विश्वास।
डॉ.सीमा अग्रवाल
Loading...