Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Mar 2023 · 1 min read

In lamho ko kaid karlu apni chhoti mutthi me,

In lamho ko kaid karlu apni chhoti mutthi me,
Sapno ke mai rang bhardu irado ki basti me.
Aag laga du sabhi sej ko , dhoke se jo sajte hai,
Mitti ki khushboo bhar kar bhi angare jalte hai.
Sine par goliya khane me bhi apni fitur hai ,
Warna to kayi makhmal ke bister par hi
marte hai .😍 by sakshi .

78 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
यह धरती भी तो, हमारी एक माता है
यह धरती भी तो, हमारी एक माता है
gurudeenverma198
बहुत याद आता है मुझको, मेरा बचपन...
बहुत याद आता है मुझको, मेरा बचपन...
Anand Kumar
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
Dr Archana Gupta
💐प्रेम कौतुक-495💐
💐प्रेम कौतुक-495💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
फीसों का शूल : उमेश शुक्ल के हाइकु
फीसों का शूल : उमेश शुक्ल के हाइकु
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
😊#The_One_man_army_of_my_life.…...
😊#The_One_man_army_of_my_life.…...
*Author प्रणय प्रभात*
मलूल
मलूल
Satish Srijan
किस के लिए संवर रही हो तुम
किस के लिए संवर रही हो तुम
Ram Krishan Rastogi
कता
कता
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
के कितना बिगड़ गए हो तुम
के कितना बिगड़ गए हो तुम
Akash Yadav
*सुख-दुख में जीवन-भर साथी, कहलाते पति-पत्नी हैं【हिंदी गजल/गी
*सुख-दुख में जीवन-भर साथी, कहलाते पति-पत्नी हैं【हिंदी गजल/गी
Ravi Prakash
किसी से मत कहना
किसी से मत कहना
Shekhar Chandra Mitra
आत्मसम्मान
आत्मसम्मान
Versha Varshney
श्रीराम का पता
श्रीराम का पता
नन्दलाल सुथार "राही"
माफ़ कर दो दीवाने को
माफ़ कर दो दीवाने को
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
किसी की याद आना
किसी की याद आना
श्याम सिंह बिष्ट
चेहरे उजले ,और हर इन्सान शरीफ़ दिखता है ।
चेहरे उजले ,और हर इन्सान शरीफ़ दिखता है ।
Ashwini sharma
हिटलर
हिटलर
सुशील मिश्रा (क्षितिज राज)
खूबियाँ और खामियाँ सभी में होती हैं, पर अगर किसी को आपकी खूब
खूबियाँ और खामियाँ सभी में होती हैं, पर अगर किसी को आपकी खूब
Manisha Manjari
हिचकी
हिचकी
Bodhisatva kastooriya
दूर रहकर तो मैं भी किसी का हो जाऊं
दूर रहकर तो मैं भी किसी का हो जाऊं
डॉ. दीपक मेवाती
बुलेट ट्रेन की तरह है, सुपर फास्ट सब यार।
बुलेट ट्रेन की तरह है, सुपर फास्ट सब यार।
सत्य कुमार प्रेमी
बस यूं ही
बस यूं ही
MSW Sunil SainiCENA
याद तुम्हारी......।
याद तुम्हारी......।
Awadhesh Kumar Singh
2333.पूर्णिका
2333.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
साँप ...अब माफिक -ए -गिरगिट  हो गया है
साँप ...अब माफिक -ए -गिरगिट हो गया है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
दिल की बात,
दिल की बात,
Pooja srijan
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
#बाल-कविता- मेरा प्यारा मित्र
#बाल-कविता- मेरा प्यारा मित्र
आर.एस. 'प्रीतम'
बुलेटप्रूफ गाड़ी
बुलेटप्रूफ गाड़ी
Shivkumar Bilagrami
Loading...