Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Apr 2023 · 1 min read

Hum to har chuke hai tumko

Hum to har chuke hai tumko
Apni baho me.
Tum jeet chuke ho humko
Apni nigaho me.

Ab fayda tumhe ho ya mujhe
is khel me maja dono ko hai

99 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
💐💐शरणागतस्य सर्वाणि कार्याणि परमात्मना भवन्ति💐💐
💐💐शरणागतस्य सर्वाणि कार्याणि परमात्मना भवन्ति💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ना तुमसे बिछड़ने का गम है......
ना तुमसे बिछड़ने का गम है......
Ashish shukla
#गजल:-
#गजल:-
*Author प्रणय प्रभात*
माफी
माफी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
संघर्ष
संघर्ष
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
रोजी न रोटी, हैं जीने के लाले।
रोजी न रोटी, हैं जीने के लाले।
सत्य कुमार प्रेमी
दीवार में दरार
दीवार में दरार
VINOD KUMAR CHAUHAN
भाषाओं का ज्ञान भले ही न हो,
भाषाओं का ज्ञान भले ही न हो,
Vishal babu (vishu)
समँदर को यकीं है के लहरें लौटकर आती है
समँदर को यकीं है के लहरें लौटकर आती है
'अशांत' शेखर
शिक्षक दिवस
शिक्षक दिवस
Ram Krishan Rastogi
सोच समझकर कीजिए,
सोच समझकर कीजिए,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
घनघोर इस अंधेरे में, वो उजाला कितना सफल होगा,
घनघोर इस अंधेरे में, वो उजाला कितना सफल होगा,
Sonam Pundir
राम राम
राम राम
Sunita Gupta
#drarunkumarshastri
#drarunkumarshastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मजा आता है पीने में
मजा आता है पीने में
Basant Bhagawan Roy
अच्छी किस्मत 🍀👤
अच्छी किस्मत 🍀👤
Skanda Joshi
चाय का निमंत्रण
चाय का निमंत्रण
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
विश्व पुस्तक दिवस (किताब)
विश्व पुस्तक दिवस (किताब)
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सरस्वती पूजा में प्रायश्चित यज्ञ उर्फ़ करेला नीम चढ़ा / MUSAFIR BAITHA
सरस्वती पूजा में प्रायश्चित यज्ञ उर्फ़ करेला नीम चढ़ा / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
इन्तेहा हो गयी
इन्तेहा हो गयी
shabina. Naaz
मां की पाठशाला
मां की पाठशाला
Shekhar Chandra Mitra
गौतम बुद्ध है बड़े महान
गौतम बुद्ध है बड़े महान
Buddha Prakash
चुनौतियाँ बहुत आयी है,
चुनौतियाँ बहुत आयी है,
Dr. Man Mohan Krishna
पग बढ़ाते चलो
पग बढ़ाते चलो
surenderpal vaidya
दिल की ये आरजू है
दिल की ये आरजू है
डॉ.श्री रमण 'श्रीपद्'
नये गीत गायें
नये गीत गायें
Arti Bhadauria
।।आध्यात्मिक प्रेम।।
।।आध्यात्मिक प्रेम।।
Aryan Raj
कभी ज़मीन कभी आसमान.....
कभी ज़मीन कभी आसमान.....
अश्क चिरैयाकोटी
बेटियाँ
बेटियाँ
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
मुझे तुम भूल सकते हो
मुझे तुम भूल सकते हो
Dr fauzia Naseem shad
Loading...