· Reading time: 1 minute

बाल कविता : नया नियम है

बाल कविता : नया नियम है
*******************************
दो किताब दो कापी
हाथों में ले – ले कर जाती ,
हमने पूछा” गुड़िया !
यह क्या नहीं बैग में आती ?”

गुड़िया बोली “नया नियम है
बैग न होगा भारी,
इसीलिए हाथों में ढोना
बच्चों की लाचारी”।।
==========================
रचयिता :रवि प्रकाश ,बाजार सर्राफा, रामपुर

7 Views
Like
Author

Enjoy all the features of Sahityapedia on the latest Android app.

Install App
You may also like:
Loading...