Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Jun 2022 · 1 min read

Feel it and see that

Feel it and see it, It is not a thing to show.
It is called love and love is just like soul.

💐💐Taj Mohammad💐💐

Language: English
Tag: Quotation
331 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Follow our official WhatsApp Channel to get all the exciting updates about our writing competitions, latest published books, author interviews and much more, directly on your phone.
You may also like:
बदलता चेहरा
बदलता चेहरा
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
रखो अपेक्षा ये सदा,  लक्ष्य पूर्ण हो जाय
रखो अपेक्षा ये सदा, लक्ष्य पूर्ण हो जाय
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
गांधी का अवतरण नहीं होता 
गांधी का अवतरण नहीं होता 
Dr. Pradeep Kumar Sharma
हम ख़्वाब की तरह
हम ख़्वाब की तरह
Dr fauzia Naseem shad
बुरे फँसे हम(हास्य गीत)
बुरे फँसे हम(हास्य गीत)
Ravi Prakash
तीन मुट्ठी तन्दुल
तीन मुट्ठी तन्दुल
कार्तिक नितिन शर्मा
प्रकृति और तुम
प्रकृति और तुम
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
దీపావళి కాంతులు..
దీపావళి కాంతులు..
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
नील नभ पर उड़ रहे पंछी बहुत सुन्दर।
नील नभ पर उड़ रहे पंछी बहुत सुन्दर।
surenderpal vaidya
मैं राम का दीवाना
मैं राम का दीवाना
Vishnu Prasad 'panchotiya'
I am always in search of the
I am always in search of the "why",
Manisha Manjari
सरकारी
सरकारी
Lalit Singh thakur
“ हम महान बनने की चाहत में लोगों से दूर हो जाएंगे “
“ हम महान बनने की चाहत में लोगों से दूर हो जाएंगे “
DrLakshman Jha Parimal
मेरी जिंदगी
मेरी जिंदगी
ओनिका सेतिया 'अनु '
गजल
गजल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
हर रास्ता मुकम्मल हो जरूरी है क्या
हर रास्ता मुकम्मल हो जरूरी है क्या
कवि दीपक बवेजा
अवसान
अवसान
Shyam Sundar Subramanian
विचार~
विचार~
दिनेश एल० "जैहिंद"
फिर से
फिर से
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
यही इश्क़ तो नहीं
यही इश्क़ तो नहीं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
पत्र की स्मृति में
पत्र की स्मृति में
Rashmi Sanjay
प्रेम पर बलिहारी
प्रेम पर बलिहारी
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
✍️तमाशा✍️
✍️तमाशा✍️
'अशांत' शेखर
खुशी और गम
खुशी और गम
himanshu yadav
*****राम नाम*****
*****राम नाम*****
Kavita Chouhan
प्रायश्चित
प्रायश्चित
Shekhar Chandra Mitra
■ आज का शेर
■ आज का शेर
*Author प्रणय प्रभात*
मेरी हसरत जवान रहने दे ।
मेरी हसरत जवान रहने दे ।
Neelam Sharma
२४३.
२४३. "आह! ये आहट"
MSW Sunil SainiCENA
मातृशक्ति को नमन
मातृशक्ति को नमन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...