Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Sep 13, 2021 · 1 min read

Eyes

Eyes
how to say
matter of eyes
see
so started
lake depth
dream reality

like a tavern
school of love
dance theater
in the eyes
unquenchable thirst
maybe these eyes
looking for special

64 Likes · 451 Views
You may also like:
तेरा पापा... अपने वतन में
Dr. Pratibha Mahi
स्वाधीनता
AMRESH KUMAR VERMA
*आजादी (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
सूरज का ताप
सतीश मिश्र "अचूक"
क्या मुझे हिफ़्ज़
Dr fauzia Naseem shad
खामों खां
Taj Mohammad
सियासत की बातें
Dr. Sunita Singh
साधु न भूखा जाय
श्री रमण 'श्रीपद्'
गीत - मुरझाने से क्यों घबराना
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
मां के आंचल
Nitu Sah
मेरे पिता
मनमोहन लाल गुप्ता अंजुम
पत्थर के भगवान
Ashish Kumar
स्वर्ग नरक का फेर
Dr Meenu Poonia
सुंदर बाग़
DESH RAJ
✍️दिल शायर होता है...✍️
'अशांत' शेखर
दिल तड़फ रहा हैं तुमसे बात करने को
Krishan Singh
हाय! सुशीला
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*सादा जीवन उच्च विचार के धनी कविवर रूप किशोर गुप्ता...
Ravi Prakash
दूर रहकर तुमसे जिंदगी सजा सी लगती है
Ram Krishan Rastogi
कोई हमारा ना हुआ।
Taj Mohammad
*देखने लायक नैनीताल (गीत)*
Ravi Prakash
भूख की अज़ीयत
Dr fauzia Naseem shad
तिरंगा
Pakhi Jain
प्रकृति
DR ARUN KUMAR SHASTRI
'वर्षा ऋतु'
Godambari Negi
आजादी का जश्न
DESH RAJ
*अमृत-उत्सव छाया (गीत)*
Ravi Prakash
दिल्लगी दिल से होती है।
Taj Mohammad
घडी़ की टिक-टिक⏱️⏱️
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
धुँध
Rekha Drolia
Loading...