Aug 3, 2021 · 1 min read

DEAR FRIENDS

Dear Friends! ,
Wrapped in winter blankets,
Standing in the fog,
Raise your hands,
If the cold touch of dew,
& the mind gets thrilled !!
Understand that
I am, I am
I am MY dear friend
Always near you. 💕

*(On Friendship Day)

186 Views
You may also like:
क्या होता है पिता
gurudeenverma198
अप्सरा
Nafa writer
🙏माॅं सिद्धिदात्री🙏
पंकज कुमार "कर्ण"
पिता का कंधा याद आता है।
Taj Mohammad
नफरत की राजनीति...
मनोज कर्ण
"कभी मेरा ज़िक्र छिड़े"
Lohit Tamta
नर्सिंग दिवस विशेष
हरीश सुवासिया
हस्यव्यंग (बुरी नज़र)
N.ksahu0007@writer
मां
Dr. Rajeev Jain
फीका त्यौहार
पाण्डेय चिदानन्द
पापा आप बहुत याद आते हो।
Taj Mohammad
ज़रा सामने बैठो।
Taj Mohammad
जबसे मुहब्बतों के तरफ़दार......
अश्क चिरैयाकोटी
हाइकु_रिश्ते
Manu Vashistha
!?! सावधान कोरोना स्लोगन !?!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
है रौशन बड़ी।
Taj Mohammad
धरती की फरियाद
Anamika Singh
ऐसी सोच क्यों ?
Deepak Kohli
🍀🌺प्रेम की राह पर-51🌺🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
भाग्य का फेर
ओनिका सेतिया 'अनु '
खिले रहने का ही संदेश
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मां तो मां होती है ( मातृ दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
अभी तुम करलो मनमानियां।
Taj Mohammad
अजीब कशमकश
Anjana Jain
💐💐प्रेम की राह पर-20💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तोड़कर मुझे न देख
अरशद रसूल /Arshad Rasool
सुख दुख
Rakesh Pathak Kathara
आज कुछ ऐसा लिखो
Saraswati Bajpai
खाली मन से लिखी गई कविता क्या होगी
Sadanand Kumar
*तिरछी नजर *
Dr. Alpa H.
Loading...