Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Nov 2022 · 1 min read

Calling with smartphone !

Ring ! Ring! Ring!
Phone is ringing ,
Singing sweet tune,
And breaking the silence,
Someone is remembering,

Calling ! Calling! Calling!
Please !accept the call,
Listen the someone’s talk,
Conversation lets start,
How the phone is smart.

Ring ! Ring! Ring!
Smart phone singing a song,
Actually it’s ringing a video call,
See who is coming virtual on the screen,
One can see reality in video call,
Beauty of eachother looking they clear,
Feeling of heart one can share,
Busy life today’s world,
Smart phone is near,
Call the dear! Call the dear!
When you get free time,
miss your love.

Written by-
✍🏼✍🏼
Buddha Prakash,
Maudaha Hamirpur (U.P.)

Language: English
Tag: Poem
4 Likes · 155 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Buddha Prakash
View all
You may also like:
कमाल लोग होते हैं वो
कमाल लोग होते हैं वो
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
ज़िन्दगी में सफल नहीं बल्कि महान बनिए सफल बिजनेसमैन भी है,अभ
ज़िन्दगी में सफल नहीं बल्कि महान बनिए सफल बिजनेसमैन भी है,अभ
Rj Anand Prajapati
सूर्योदय
सूर्योदय
Madhu Shah
नजर लगी हा चाँद को, फीकी पड़ी उजास।
नजर लगी हा चाँद को, फीकी पड़ी उजास।
डॉ.सीमा अग्रवाल
इश्क चाँद पर जाया करता है
इश्क चाँद पर जाया करता है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
अब बस बहुत हुआ हमारा इम्तिहान
अब बस बहुत हुआ हमारा इम्तिहान
ruby kumari
*.....उन्मुक्त जीवन......
*.....उन्मुक्त जीवन......
Naushaba Suriya
वोट डालने जाएंगे
वोट डालने जाएंगे
Dr. Reetesh Kumar Khare डॉ रीतेश कुमार खरे
■ मन गई राखी, लग गया चूना...😢
■ मन गई राखी, लग गया चूना...😢
*प्रणय प्रभात*
पढ़िए ! पुस्तक : कब तक मारे जाओगे पर चर्चित साहित्यकार श्री सूरजपाल चौहान जी के विचार।
पढ़िए ! पुस्तक : कब तक मारे जाओगे पर चर्चित साहित्यकार श्री सूरजपाल चौहान जी के विचार।
Dr. Narendra Valmiki
🙏
🙏
Neelam Sharma
मंज़िल मिली उसी को इसी इक लगन के साथ
मंज़िल मिली उसी को इसी इक लगन के साथ
अंसार एटवी
हिन्दी पर विचार
हिन्दी पर विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
ସେହି କୁକୁର
ସେହି କୁକୁର
Otteri Selvakumar
तेरी धड़कन मेरे गीत
तेरी धड़कन मेरे गीत
Prakash Chandra
बहुत तरासती है यह दुनिया जौहरी की तरह
बहुत तरासती है यह दुनिया जौहरी की तरह
VINOD CHAUHAN
*गलतफहमी*
*गलतफहमी*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
वंशवादी जहर फैला है हवा में
वंशवादी जहर फैला है हवा में
महेश चन्द्र त्रिपाठी
बोझ
बोझ
Dr. Pradeep Kumar Sharma
भ्रात-बन्धु-स्त्री सभी,
भ्रात-बन्धु-स्त्री सभी,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
माँ मेरी जादूगर थी,
माँ मेरी जादूगर थी,
Shweta Soni
शिव सबके आराध्य हैं, रावण हो या राम।
शिव सबके आराध्य हैं, रावण हो या राम।
Sanjay ' शून्य'
कैसे हो हम शामिल, तुम्हारी महफ़िल में
कैसे हो हम शामिल, तुम्हारी महफ़िल में
gurudeenverma198
एक बार फिर...
एक बार फिर...
Madhavi Srivastava
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
*आयु पूर्ण कर अपनी-अपनी, सब दुनिया से जाते (मुक्तक)*
*आयु पूर्ण कर अपनी-अपनी, सब दुनिया से जाते (मुक्तक)*
Ravi Prakash
मर्द रहा
मर्द रहा
Kunal Kanth
23/215. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/215. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
शासन हो तो ऐसा
शासन हो तो ऐसा
जय लगन कुमार हैप्पी
जब से देखा है तुमको
जब से देखा है तुमको
Ram Krishan Rastogi
Loading...