Read/Present your poetry in Sahityapedia Poetry Open Mic on 30 January 2022.

Register Now
· Reading time: 1 minute

सुनअ सजनवा हो…

सुनअ सजनवा हो…
■■■■■■■■■■■■■■■
सुनअ सजनवा हो कइनी कवन हम कसूर

सेनूर लगाई दिहलअ
नइहर छोड़ाई दिहलअ
सुनअ सजनवा हो काहें रहेलअ दूर-दूर-
सुनअ सजनवा हो कइनी कवन हम कसूर

सपना देखा के सइँया
हिया में समा के सइँया
सुनअ सजनवा हो हिअवा काहे के दिहलअ तूर-
सुनअ सजनवा हो कइनी कवन हम कसूर

तहरे खातिर अइनी हम
माई-बाप तेजनी हम
सुनअ सजनवा हो काहें बनवलअ मजदूर-
सुनअ सजनवा हो कइनी कवन हम कसूर

– आकाश महेशपुरी

1 Like · 1 Comment · 56 Views
Like
Author
संक्षिप्त परिचय : नाम- आकाश महेशपुरी (कवि, लेखक) मो. न. 9919080399 मूल नाम- वकील कुशवाहा जन्मतिथि- 15 अगस्त 1980 शैक्षिक योग्यता- स्नातक ॰॰॰ प्रकाशन- सब रोटी का खेल (काव्य संग्रह)…

Enjoy all the features of Sahityapedia on the latest Android app.

Install App
You may also like:
Loading...