· Reading time: 1 minute

काहे देखेलु तू हमके।।

काहे देखेलु तू हमके,
का हम अतना सुंदर बानी।
मुँह से त कुछु बोलत नईखु,
आखियाँ ताहर कहेला कहानी।
बोल त हमहू देती,
का कही हमहू लजानी।

42 Views
Like
Author
5 Posts · 306 Views
में सूरज कुमार, आप सभी को मेरा नमस्कार । में बिहार राज्य का निवासी हु में स्नातक पार्ट 2 का छात्र हु। मझे लिखना काफी ज्यादा पसंद है। मेरी पहली…

Enjoy all the features of Sahityapedia on the latest Android app.

Install App
You may also like:
Loading...