Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Mar 2019 · 1 min read

865 देश के वीर

देश के वीरों ने दे कर जान।
मां भारत की रखी शान।

दि धी आजादी की जंग को चिंगारी।
भारत माँ सदा तुम्हारी रहेगी आभारी।

तुम थे देश के सच्चे सपूत।
ऐसी कि तुमने करतूत।

देखते रह गए बैठे अंग्रेज।
दीवानों ने अपना लक्ष्य दिया भेद।

जो ठाना था कर दिखाया।
असेंबली में बम गिराया।

फिर भी देखो डरे नहीं।
कोई भी जुबान से मुकरा नहीं।

डर नहीं किसी को, जो आए मौत।
यह तो उन वीरों के लिए थी सौगात।

अमर हो गए वह सूली पर चढ़कर।
देश ने भी नारे लगाए बढ़ चढ़कर।

रखना यह आजादी संभाल के।
जो मिली है जान कुर्बान से।

इस देश को करना तुम प्यार।
यही होगा उन पर उपकार।

देश को एक बार फिर बचाना गद्दारों से।
नहीं तो फिर झूलना पड़ेगा मीनारों पे।

जान से कीमत चुकानी पड़ेगी।
आजा़दी फिर भी महंगी पड़ेगी।

रखना तुम आजादी को संभाल।
उनकी कुर्बानी ना जाए बेकार।

वो हो गये हँस कर कुर्बान।
बोलकर भारत माता की जय जयकार।

Language: Hindi
1 Like · 177 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Follow our official WhatsApp Channel to get all the exciting updates about our writing competitions, latest published books, author interviews and much more, directly on your phone.
You may also like:
तन्हाई
तन्हाई
Surinder blackpen
दिलरुबा जे रहे
दिलरुबा जे रहे
Shekhar Chandra Mitra
Meri asuwo me use rokane ki takat hoti
Meri asuwo me use rokane ki takat hoti
Sakshi Tripathi
चंपई  (कुंडलिया)
चंपई (कुंडलिया)
Ravi Prakash
" मासूमियत भरा भय "
Dr Meenu Poonia
कुछ भी होगा, ये प्यार नहीं है
कुछ भी होगा, ये प्यार नहीं है
Anil chobisa
अब उनकी आँखों में वो बात कहाँ,
अब उनकी आँखों में वो बात कहाँ,
Shreedhar
रण
रण
सुशील मिश्रा (क्षितिज राज)
प्रिय-प्रतीक्षा
प्रिय-प्रतीक्षा
Kanchan Khanna
जो बीत गया उसे जाने दो
जो बीत गया उसे जाने दो
अनूप अम्बर
पथ पर आगे
पथ पर आगे
surenderpal vaidya
आप चाहे जितने भी बड़े पद पर क्यों न बैठे हों, अगर पद के अनुर
आप चाहे जितने भी बड़े पद पर क्यों न बैठे हों, अगर पद के अनुर
Anand Kumar
✍️मेरा शहर तेरे रास्ते...
✍️मेरा शहर तेरे रास्ते...
'अशांत' शेखर
असली परवाह
असली परवाह
*Author प्रणय प्रभात*
अपनी गजब कहानी....
अपनी गजब कहानी....
डॉ.सीमा अग्रवाल
पसीना।
पसीना।
Taj Mohammad
प्यार है,पावन भी है ।
प्यार है,पावन भी है ।
Dr. Man Mohan Krishna
वाक़िफ न हो सके हम
वाक़िफ न हो सके हम
Dr fauzia Naseem shad
✍️कश्मकश भरी ज़िंदगी ✍️
✍️कश्मकश भरी ज़िंदगी ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
डूबे हैं सर से पांव तक
डूबे हैं सर से पांव तक
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जाने दिया
जाने दिया
Kunal Prashant
"ये दुनिया बाजार है"
Dr. Kishan tandon kranti
भिनसार ले जल्दी उठके, रंधनी कती जाथे झटके।
भिनसार ले जल्दी उठके, रंधनी कती जाथे झटके।
PK Pappu Patel
23/34.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/34.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
होली
होली
लक्ष्मी सिंह
तू क्यों रोता है
तू क्यों रोता है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
" मंजिल का पता ना दो "
Aarti sirsat
बेबाक
बेबाक
Satish Srijan
डर से अपराधी नहीं,
डर से अपराधी नहीं,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
झूम मस्ती में झूम
झूम मस्ती में झूम
gurudeenverma198
Loading...